onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

अरुणाचल के तवांग में चीनी सैनिकों की घुसपैठ की कोशिश के बाद से उत्तराखंड सीमा पर भी सेना व आइटीबीपी की गश्त तेज

अरुणाचल के तवांग में चीनी सैनिकों की घुसपैठ की कोशिश के बाद से उत्तराखंड सीमा पर भी सेना व आइटीबीपी की गश्त तेज हो गई है। अलर्ट के बीच सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने सीमांत का हवाई निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि धारचूला-लिपुलेख सीमा सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग बनाया जाएगा।राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह रविवार सुबह गौचर चमोली से हेलीकाप्टर से गुंजी पहुंचे। उन्होंने बीआरओ के मुख्य अभियंता बिग्रेडियर एमएनवी प्रसाद व कमांडर कर्नल एनके शर्मा से सीमांत की सभी सड़कों की जानकारी ली।

चीन सीमा तक पहुंचने वाली गर्बाधार-लिपुलेख के शेष सुरक्षा कार्य, निर्माणाधीन मुनस्यारी-मिलम और गुंजी-आदि कैलास सड़क का काम तेजी से करने के निर्देश दिए। गुंजी में करीब एक घंटे रुकने के बाद  पिथौरागढ़ नैनी सैनी हवाई पट्टी पहुंचे।नैनी सैनी पट्टी में जिलाधिकारी डा. आशीष चौहान और एनएच के प्रबंध निदेशक से सड़कों को लेकर चर्चा की। चारधाम यात्रा के लिए बन रहे मार्ग से इतर धारचूला-लिपुलेख सड़क कैलास मानसरोवर यात्रा के साथ ही चीन सीमा से भी लिंक होती है। इसके हाईवे बनने से वर्ष भर पर्यटक पहुंचेंगे और स्थानीय गांवों के लोगों को रोजगार भी मिलेगा।

 

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.