onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के घर के बाहर कश्मीरी हिंदुओं का अपमान करने का आरोप लगाते हुए जोरदार प्रदर्शन

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर कश्मीरी हिंदुओं का अपमान करने का आरोप लगाते हुए भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने बुधवार दोपहर में जोरदार प्रदर्शन किया। भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्या के नेतृत्व में मुख्यमंत्री आवास के बाहर जुटे प्रदर्शनकारी पुलिस बैरिकेड तोड़कर मुख्यमंत्री आवास के गेट तक पहुंच गए। गेट के बाहर लगे बैरियर के साथ ही सीसीटीवी कैमरे को नुकसान पहुंचाया। वहीं, गेट पर प्रदर्शनकारियों ने नारंगी पेंट करने की भी कोशिश की। इस बीच मौके पर  मौजूद पुलिस ने तेजस्वी सूर्या सहित कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है।

इससे पहले खबर आई थी कि कुछ असामाजिक तत्वों ने केजरीवाल के आवास पर बुधवार को हमला कर दिया। इन असामाजिक तत्वों ने उनके घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे और सिक्योरिटी बैरियर तोड़ दिए। इसके अलावा इन लोगों ने उनके आवास के बाहर लगे बूम बैरियर भी तोड़ दिए हैं। डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने अपने इंटरनेट मीडिया एकाउंट ट्विटर पर ये जानकारी साझा की। इसके बाद पार्टी के अन्य नेताओं ने भी उनके ट्वीट को रिट्वीट किया।इस मामले में डीसीपी उत्तरी जिला सागर सिंह कलसी ने बताया कि बीजेपी युवा मोर्चा का विरोध प्रदर्शन चल रहा था, जिसमें प्रदर्शनकारियों ने बवाल मचाया, सीसीटीवी पर भी हमला किया, सीएम आवास के बाहर पेंट (रंग) भी फेंका। इस मामले में हमने 50 लोगों को हिरासत में लिया है। भीड़ को तितर बितर कर दिया है। फिलहाल शांति है। अभी कोई शिकायत नहीं मिली। शिकायत मिलते ही एफआईआर दर्ज की जाएगी।

आप नेता और पंजाब से राज्यसभा सदस्य राघव चड्ढा ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। उन्होंने ट्वीट किया है कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर भाजपा के गुंडों द्वारा करा गया हमला बेहद निंदनीय है। पुलिस की मौजूदगी में इन गुंडों ने बैरिकेड तोड़े, सीसीटीवी कैमरा तोड़े। पंजाब की हार की बौखलाहट में भाजपा वाले इतनी घटिया राजनीति पर उतर गए।आप नेता आतिशी ने भी इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि जब जब बीजेपी कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल के घर पर तोड़फोड़ कर रहे थे उस समय दिल्ली पुलिस क्या कर रही थी। उन्होंने लिखा है कि ये तो चौंका देने वाली घटना है। साथ ही उन्होंने ये भी लिखा है कि क्या इसके लिए बीजेपी कार्यकर्ताओं को गृहमंत्री अमित शाह के आफिस से समर्थन मिला हुआ है। वो किसी राज्य के सीएम के घर पर इस तरह से हमला कर तोड़फोड़ कर सकते हैं।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.