Home उत्तराखंड राजनीति

मुख्यमंत्री धामी कुमाऊं दौरे पर; सर्किट हाउस में अधिकारियों को आपदा प्रबंधन को लेकर किए निर्देशित

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी कुमाऊं दौरे पर हैं। बुधवार की सुबह सर्किट हाउस में उन्होंने अधिकारियों को आपदा प्रबंधन को लेकर निर्देशित किए। इसके बाद वह कुमाऊं दौरे के लिए निकल गए। उन्हेांने कहा कि आपदा प्रबंधन में किसी तरह की कोताही नहीं बरती जानी है।सीएम एक दिन पहले 19 अक्टूबर को देहरादून से पंतनगर आए थे। वहां से उन्होंने रुद्रपुर में आपदा प्रभावित लोगों से मुलाकात की। इसके बाद वह सड़क मार्ग से सीधे हल्द्वानी गौला पुल का निरीक्षण करने पहुंचे। वहां से सर्किट हाउस गौलापार पहुंचे और अधिकारियों की बैठक ली। सुबह से ही सर्किट हाउस में लोगों का तांता लग गया था। भाजपा कार्यकर्ता समेत कई अन्य लोग भी मिलने पहुंचे। इस दौरान वहां पर मौजूद अधिकारियों से आपदा प्रबंधन की अपडेट ली। उन्होंने कह कि सड़क मार्गों को खोलने के लिए पूरी टीमें लगी हुई हैं।

हल्द्वानी व रुद्रपुर में कंट्रेाल रूम बनाए जाने के निर्देश दिए हैं। इसके लिए अधिकारी तैयारियों में जुट गए हैं। इस दौरान आपदा मंत्री डा. धन सिंह रावत, डीजीपी अशोक कुमार, कमिश्नर सुशील कुमार, डीआइजी डा. नीलेश आंनद भरणे, डीएम धीराज गब्र्याल, एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी, भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट, शंकर कोरंगा, डा. अनिल कपूर डब्बू आदि शामिल रहे।सीएम धामी ने जिलाध्यक्ष प्रदीप बिष्ट से कहा कि जिले में आपदा राहत व बचाव कार्य में सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ता जुटें। यह मानवता का काम है। फंसे हुए लोगों को निकालने में मदद की जाए। जहां भोजन व पानी की जरूरत है। उपलब्ध कराया जाए। बिष्ट ने बताया कि हमने सभी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को इस काम में लगा दिया है।सीएम धामी को हेलीकाप्टर से कुमाऊं के आपदा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने जाना है, लेकिन मौसम की खराबी के चलते हेलीकाप्टर नहीं उड़ सका। वह सर्किट हाउस से सड़क मार्ग होते हुए खटीमा को रवाना हो गए हैं।

 

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.