Home उत्तराखंड स्लाइड

उत्तराखंड में मौसम ने फिर बदला मिजाज,चारों धामों में जमकर हो रही बर्फबारी,

उत्तराखंड में दिवाली के बाद मौसम ने फिर से अपना मिजाज बदल लिया है। प्रदेश में रविवार रात से लगातार हो रही बारिश के साथ ही पहाड़ों की ऊंची चोटियों ने बर्फबारी हो रही है।केदारनाथ,गंगोत्री,बदरीनाथ व यमुनोत्री में भारी बर्फबारी हो रही है। केदारनाथ धाम में बर्फबारी के बाद मंदिर परिसर के चारों ओर बर्फ ही बर्फ नज़र आ रही है। पर्वतीक्ष इलाकों में बर्फबारी के बाद मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ गई है।

इसके चलते केदारनाथ धाम में रविवार के पहुंचे यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी धाम में फंस गए हैं। हालांकि केदारनाथ धाम के कपाट सुबह नियत समय पर साढ़े आठ बजे बंद कर दिए गए थे।केदारनाथ धाम में करीब एक फीट, गंगोत्री में आधा फीट तक बर्फ गिर चुकी थी। योगी आदित्यनाथ और त्रिवेंद्र सिंह रावत का बदरीनाथ धाम में कार्यक्रम था, लेकिन बर्फबारी के चलते दोनों फंसे हुए हैं।

मौसम विभाग ने बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा ऊंची चोटियों पर हल्का हिमपात भी हो सकता है। मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ फिर सक्रिय हो गया है। इससे मैदानी इलाकों पर 16 नवंबर को सीधा प्रभाव पड़ने की संभावना है। जिससे उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी से ठंड में भी इजाफा हो सकता है।

बदरीनाथ धाम में जमकर हिमपात हो रहा है । यहां पहुचें श्रद्धालु भगवान और प्रकृति के अदभुत संयोग के दर्शन कर रहे हैं । बदरीनाथ में एक ओर हजारों फूलों से मंदिर और विराट सिंह द्वार सजा है । वहीं रविवार की रात्रि और सोमवार की सुबह से ही बर्फ की फाहें इस तरह गिर रहीं है लगता है प्रकृति आसमान से श्वेत पुष्प इस धर्म पुरी में बिखेर रही है।

पवित्र विष्णु सहस्त्रनामावली की  संगीत से युक्त स्वर लहरियां  ध्वनि विस्तार यंत्र से गूंज रहीं है । सैकड़ों श्रद्धालु ” जय बदरी विशाल ” का जय घोष कर रहे हैं। तो कोई श्रीमन नारायण नारायण का जाप कर रहे हैं । बर्फ  की शीतलता के बीच का  भगवान और प्रकृति का सानिध्य लोगों को ऊर्जा और शक्ति दे रहा है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.