onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

उत्तराखंड में मंगलवार को भी मौसम का मिजाज बदला रहेगा

उत्तराखंड में मंगलवार को भी मौसम का मिजाज बदला रहेगा। राजधानी देहरादून में सुबह से ही हल्‍के बादल छाए रहे। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्वानुमान के अनुसार आज राज्य में कहीं-कहीं गर्जन के साथ ओलावृष्टि हो सकती हैआकाशीय बिजली चमकने के साथ तेज बौछारें पडऩे की भी संभावना है। इस दौरान 60 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से अंधड़ चलने की चेतावनी देते हुए यलो अलर्ट जारी किया गया है।मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि मंगलवार को प्रदेश में कहीं-कहीं अंधड़ चलने की संभावना है। साथ ही उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, चमोली, बागेश्वर व पिथौरागढ़ जिले में विभिन्न स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। मैदानी क्षेत्रों में कहीं-कहीं गर्जन के साथ हल्की बारिश हो सकती है।

कर्णप्रयाग में पंचपुलिया के पास गलनाउ में बोल्डर आने से सड़क मार्ग बाधित हो गया है। मार्ग खोलने का कार्य प्रगति पर है। संबंधित अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही यातायात सुचारू हो जाएगा।मौसम खराबी के कारण जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर हवाई सेवाएं प्रभावित हुई। मुंबई और दिल्ली की दो फ्लाइट विलंब से एयरपोर्ट पहुंची। जिससे यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ी। एयरपोर्ट के ड्यूटी टर्मिनल मैनेजर सुशांत शर्मा ने बताया कि मुंबई से देहरादून आने वाली गो एयरवेज की फ्लाइट जौलीग्रांट एयरपोर्ट में मौसम खराबी के कारण दिल्ली एयरपोर्ट के लिए डायवर्ट की गई।

देहरादून का मौसम ठीक हो जाने के बाद यह फ्लाइट तीन घंटे बाद दिल्ली से उड़ान भरकर देहरादून पहुंची।  मौसम खराबी को देखते हुए दिल्ली से देहरादून आने वाली स्पाइस जेट की फ्लाइट को भी दो घंटे दिल्ली में रोके रखा गया। मौसम साफ होने के बाद यह फ्लाइट भी दिल्ली से देहरादून पहुंची।दून के अधिकांश इलाकों में मंगलवार शाम को अंधड़ चलने से जनजीवन प्रभावित हुआ। करीब एक घंटा तक 50 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चली हवा कई दुकानों का टिन शेड व होर्डिंग उड़ा ले गई। वहीं, कुठाल गेट के पास और ओल्ड मसूरी रोड पर दो पेड़ गिर गए। कुठाल गेट के पास गिरे पेड़ के नीचे पांच श्रमिक दब गए।

उन्हें दून अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से एक श्रमिक की हालत गंभीर बताई जा रही है। सड़क पर पेड़ गिरने के कारण दोनों जगह करीब आधा घंटा तक जाम लगा रहा।  रात में बारिश होने से गर्मी और उमस से राहत मिली।सोमवार को दून में दिनभर चटख धूप के साथ उमस ने दूनवासियों को बेहाल किया। शाम को करीब चार बजे मौसम का मिजाज बदला और आसमान में बादलों ने डेरा डाल दिया। थोड़ी देर बाद आंधी चलने लगी। इससे गर्मी से तो राहत मिली, मगर सड़क पर धूल के गुबार उडऩे से परेशानी भी झेलनी पड़ी।

शहर में दो जगह तेज हवा के कारण पेड़ गिर गए। राजपुर थानाध्यक्ष मोहन सिंह ने बताया कि तेज हवा के कारण कुठाल गेट के निकट एक बड़ा पेड़ गिर गया। वहां बिजली व्यवस्था के सुधार में लगे पांच श्रमिक पेड़ के नीचे दब गए। पुलिस और फायर ब्रिगेड की टीम ने घायलों को किसी तरह पेड़ के नीचे से निकाला और दून अस्पताल पहुंचाया।थानाध्यक्ष ने बताया कि एक श्रमिक की हालत गंभीर है। सड़क के बीचों-बीच पेड़ गिरने से यातायात को राजपुर मार्ग पर डायवर्ट किया गया। इसके थोड़ी देर बाद ओल्ड मसूरी रोड पर एक पेड़ गिर गया। दोनों पेड़ों को हटाने में करीब आधा घंटा लग गया। इस दरमियान यातायात पूरी तरह ठप रहा। मसूरी से नीचे आने वाला यातायात भी जाम में फंस गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों पेड़ों को हटाने के बाद यातायात को सुचारू किया जा सका।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.