onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने सरकार को घेरते हुए कहा मार्च 2022 तक उत्तराखंड 68 हजार करोड़ के कर्जे में डूब जाएगा

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने रविवार को प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश सरकार को घेरते हुए कहा कि मार्च 2022 तक उत्तराखंड 68 हजार करोड़ के कर्जे में डूब जाएगा। पांच साल में बेरोजगारी दर छह गुणा बढ़ चुकी है। केंद्रीय रिपोर्ट के मुताबिक 2019 में शिक्षित युवा बेरोजगारों की संख्या में 14.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई। जबकि उन तीन लाख युवाओं का आंकड़ा सरकार ने शामिल नहीं किया। जो कि लॉकडाउन के दौरान महानगरों से गांव में लौटे थे। यानी युवा राज्य में युवाओं संग ही खिलवाड़ किया गया है। राष्ट्रीय प्रवक्ता खेड़ा ने कहा कि जब हम तथ्यों के साथ असल मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएंगे तो लोग खुद हमारा कॉडर बनेंगे।jagranनैनीताल रोड स्थित बैंक्वेट हाल में प्रेसवार्ता के दौरान खेड़ा ने कहा कि साढ़े चार साल में तीन बार सीएम बदल जनता के साथ घोखा किया गया। भाजपा कारण बताए कि क्यों उसने अपने मुख्यमंत्रियों को फेल माना। लेकिन पीएम से लेकर मंत्री तक सब सवालों से डरते हैं। डबल इंजन की सरकार में जनता को सिर्फ ट्रबल मिला है। आंकड़े गवाह है कि दूसरे पहाड़ी राज्यों की तुलना में पर्यटन की रफ्तार भी उत्तराखंड में धीमी हो गई। कांग्रेस हमेशा चाहती है कि बेरोजगारी, कारोबार समेत जनता से जुड़े मुद्दों पर बात हो।

लेकिन केंद्र से लेकर राज्यों में जमी भाजपा की सरकार इन्हीं बातों से डरती है। क्योंकि, उसकी पोल खुल जाएगी। इसलिए वह ध्यान भटकाने की राजनीति करते हैं। मगर 2022 में कांग्रेस और जनता मिलकर सत्ता परिवर्तन करेंगे। उसके बाद उत्तराखंड को विकास के पथ पर अग्रसर किया जाएगा।प्रेसवार्ता के दौरान टिकट को लेकर उम्र के फैक्टर का सवाल पूछे जाने पर प्रवक्ता खेड़ा ने कहा कि कांग्रेस अपने वरिष्ठजनों का सम्मान करने के साथ उनके अनुभव का लाभ लेती है। हमारे यहां घर के बुजुर्गों को भाजपा की तरह आडवाणी नहीं बनाया जाता। भाजपा की तरह हमारी संस्कृति लडऩे और लड़वाने की नहीं है।प्रेसवार्ता से पहले राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा व अन्य वरिष्ठ कांग्रेसियों ने पूर्व नेता प्रतिपक्ष डा. इंदिरा हृदयेश के चित्र पर पुष्प अर्पित करने के साथ मौन धारण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस दौरान कार्यवाहक अध्यक्ष तिलकराज बेहड़, स्टेट मीडिया कोर्डिनेटर जरीता लैतफलांग, पूर्व मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल, जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल, पब्लिसिटी कमेटी अध्यक्ष सुमित हृदयेश, प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया व बीना जोशी, उपाध्यक्ष हेमंत बगड़वाल, महानगर अध्यक्ष राहुल छिम्वाल, प्रदेश सचिव गोविंद बिष्ट, मयंक भट्ट, हरीश मेहता, हुकम सिंह कुंवर आदि शामिल थे।

 

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.