UP पुलिस पर सबसे बड़ा हमला, सीओ समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद

Facebooktwittermailby feather

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गए पुलिस दस्ते पर बदमाशों ने हमला कर दिया। इस हमले में पुलिस के एक क्षेत्राधिकारी और 2 एसआई समेत 8 पुलिस कर्मी शहीद हो गए। इसके अलावा कई अन्य जवान घायल भी हुए हैं। ये सभी पुलिस जवान उत्तर प्रदेश के कुख्या हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को पकड़ने गए थे। विकास दुबे कानपुर का हिस्ट्रीशीटर हैं इसके ऊपर 60 मुकदमे दर्ज है। विकास दुबे इससे पहले भी थाने में घुसकर राज्यमंत्री और पुलिस कर्मी सहित कई लोगों की हत्या कर चुका है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार यह घटना कल रात की है। जनपद कानपुर नगर के थाना चौबेपुर के ग्राम बिकरू के ही एक व्यक्ति की शिकायत पर हिस्ट्री शीटर विकास दुबे को पकड़ने कानपुर पुलिस की टीम गई थी। इस पुलिस दल पर अकस्मात अपराधी तथा उसके साथियों ने छत से फायर कर दिया। इसमें एक पुलिस क्षेत्राधिकारी, 3 सब इंस्पेक्टर एवं 4 कांस्टेबल मौके पर शहीद हो गए हैं । मुठभेड़ के दौरान बिठूर थाना प्रभारी कौशलेंद्र प्रताप सिंह समेत कई पुलिसकर्मी को गोली लगी है। घायल एसओ और सभी पुलिस कर्मियों को गंभीर हालत में रीजेंसी अस्पताल लाया गया है

कैसे हुआ हमला
बताया जा रहा है कि पुलिस दल को बिकारू गांव में विकास दुबे के होने की खबर मिली थी। जैसे ही पुलिस दल वहां दबिश के लिए पहुंचा बदमाशों ने पुलिस के दस्ते पर फायरिंग कर दी। पुलिस जवानों को संभलने और खुद को किसी आड़ में सुरक्षित करने का मौका ही नहीं मिला। इस जघन्य हमले में 8 पुलिस जवानों की जान चली गई।