Home उत्तराखंड राजनीति

संयुक्त राष्ट्र को अनुदान मिलने की खबरों के बीच भारत ने संगठन की गतिविधियों की जानकारी दी

खालिस्तान समर्थक संगठन सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) की तरफ से संयुक्त राष्ट्र को अनुदान मिलने की खबरों के बीच भारत ने शुक्रवार को कहा कि उसने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार उच्चायुक्त कार्यालय से अपनी चिंता जताई है और उसे संगठन की गतिविधियों की जानकारी दे दी है।भारत में मानवाधिकारों पर अमेरिकी विदेश मंत्रालय की रिपोर्ट के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘हम उम्मीद करते हैं कि उनमें भारत में होने वाली घटनाओं के बारे में उचित समझ होनी चाहिए।

संयुक्त राष्ट्र को एसएफजे से धन मिलने के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि जेनेवा स्थित भारत के स्थायी मिशन ने संगठन की गतिविधियों के बारे में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयुक्त कार्यालय को जानकारी दे दी है।भारत सरकार ने एसएफजे को अवैध संगठन घोषित किया है। एसएफजे भारत विरोधी गतिविधियों में शामिल रहा है। वह भारत की एकता और संप्रभुता को खंडित करने के इरादे से देश विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा देता है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.