Home उत्तराखंड राजनीति

हरिद्वार में कुंभ मेला शुरू होने से एक दिन पहले मुख्यमंत्री ने दी कुंभ क्षेत्र को बड़ी सौगात

हरिद्वार में कुंभ मेला शुरू होने से एक दिन पहले कुंभ क्षेत्र को बड़ी सौगात मिली। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और केंद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री आरके सिंह ने बुधवार को वर्चुअल माध्यम से हरिद्वार कुंभ क्षेत्र में भूमिगत केबलिंग परियोजना का लोकार्पण किया। इससे कुंभ क्षेत्र को बगैर बाधा के 24 घंटे बिजली मिलेगी। बारिश और आंधी-तूफान के साथ ही तारों के टूटने से बिजली आपूर्ति ठप होने और संभावित दुर्घटनाएं अब नहीं होंगी। खास बात ये है कि भूमिगत केबलिंग की व्यवस्था से जुड़ने वाला बनारस के बाद हरिद्वार दूसरा शहर है।ऋषिकुल आडिटोरियम में बुधवार को हुए लोकार्पण कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से शिरकत करते हुए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि इस परियोजना का क्रियान्वयन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी विजन के अनुरूप किया गया। एकीकृत विद्युत विकास योजना के अंतर्गत हरिद्वार की विद्युत लाइनों को केबल के माध्यम से भूमिगत किए जाने को केंद्र सरकार ने 388.49 करोड़ की धनराशि मंजूर की थी। इस प्रक्रिया में स्थानीय व्यक्तियों के हितों को सर्वोपरि रखा गया। इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और केंद्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आरके सिंह का आभार भी जताया।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि हरिद्वार में कुंभ क्षेत्र में स्थानीय निवासियों और श्रद्धालुओं को 24 घंटे गुणवत्ता के साथ बाधा रहित बिजली मिलेगी। भूमिगत केबल की वजह से विद्युत लाइनों के रखरखाव के खर्च में कमी आएगी। आवासीय और वाणिज्यिक क्षेत्रों के सौंदर्यीकरण को खुला स्थान उपलब्ध हो सकेगा। सड़कों का चौड़ीकरण आसानी से होगा, जिससे वाहनों की आवाजाही सुगम होगी।उन्होंने कहा कि धर्मनगरी हरिद्वार करोड़ों श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। यहां सालभर कई पर्वों व स्नानों का आयोजन होता है। देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में केंद्र सरकार अमृत महोत्सव आयोजित कर रही है। मानव संसाधनों का विकास करने की दिशा में 75 सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रम होंगे। इस कड़ी में हरिद्वार में भी यह महत्वपूर्ण कार्यक्रम हुआ। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरिद्वार में दिव्य, भव्य, सुंदर और सुरक्षित कुंभ के लिए सरकार पूरी तरह तैयार है। श्रद्धालुओं की सुविधा और सुरक्षा के मद्देनजर सभी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि साधु-संतों और भक्तों को कोई समस्या पेश न आए, इसके लिए सरकार प्रतिबद्ध है। हरिद्वार कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं से उन्होंने कोविड-19 को लेकर केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि मास्क पहनने, समय-समय पर हाथ धोने ओर सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन किया जाना चाहिए।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.