onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

मुख्यमंत्री धामी ने प्रदेश की ऊर्जा प्रदेश बनाने के लिए ऊर्जा कार्मिकों को सहयोगी की भूमिका में रहने को कहा

उत्तराखंड जलविद्युत निगम लि. (यूजेवीएनएल) के स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश की ऊर्जा प्रदेश बनाने के लिए ऊर्जा कार्मिकों को सहयोगी की भूमिका में रहने को कहा। उन्होंने कहा कि ऊर्जा परियोजनाओं की प्रगति बढ़ाकर इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने समारोह में बेहतर काम करने वाले कार्मिकों व बेहतर परियोजनाओं के लिए 24 पुरस्कार बांटे।रविवार देर शाम स्थापना दिवस समारोह का उदघाटन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ ऊर्जा मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने किया। यूजेवीएनएल को स्थापना दिवस की शुभकामना देते हुए मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि राज्य निर्माण के समय राज्य के ऊर्जा क्षेत्र को आर्थिकी का आधार माना गया था, लेकिन कुछ सालों में इस दिशा में प्रगति कुछ धीमी रह गई। हम इस दिशा में कैसे तेजी से आगे बढ़ सके, इस दिशा में प्रयास करने होंगे। ऊर्जा क्षेत्र से जुड़े अनुभवी व्यक्तियों का हरसंभव सहयोग लेने में भी संकोच नहीं करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि विकास योजनाओं को समय पर पूरा करने के लिए किए जाने वाले प्रयासों के लिए हमें हर समय शिक्षार्थी बनना होगा। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने खटीमा विद्युत गृह को बेस्ट परफार्मिंग पावर हाउस तथा व्यासी जल विद्युत परियोजना को बेस्ट अंडर कंस्ट्रक्शन परफार्मिंग प्रोजेक्ट का अवार्ड प्रदान करते हुए कहा कि खटीमा जल विद्युत गृह के लोहिया हेड से उनका नाता रहा है। वहीं, ऊर्जा मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने ऊर्जा कर्मियों से ऊर्जावान बनने की अपेक्षा करते हुए कहा कि जहां अन्य निगम सरकार से मांगते हैं, यूजेवीएनएल सरकार को देने वाला निगम है।इस अवसर पर निगम के प्रबंध निदेशक संदीप सिंघल ने यूजेवीएनएल के कार्यों व प्रगति की जानकारी दी और मुख्यमंत्री को निगम के लाभांश का 25 करोड़ का चेक भेंट किया। कार्यक्रम में यूजेवीएनएल की अध्यक्ष राधा रतूड़ी, विद्युत लोकपाल सुभाष कुमार, ऊर्जा निगम के प्रबंध निदेशक अनिल कुमार आदि उपस्थित थे।

 

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.