उत्तराखंड Home राजनीति

शहर में स्मार्ट सिटी इलेक्टिक बस और ई-रिक्शा के संचालन के विरोध में बुलाई ट्रांसपोर्टरों की बैठक

शहर में स्मार्ट सिटी इलेक्टिक बस और ई-रिक्शा के संचालन के विरोध में बुलाई ट्रांसपोर्टरों की बैठक सिटी बस महासंघ और विक्रम जनकल्याण समिति की आपसी कलह की भेंट चढ़ गई। दरअसल, सिटी बस, आटो, विक्रम, टाटा मैजिक एवं टैक्सी यूनियन को मिलाकर महासंघ बनाकर विरोध की तैयारी की जा रही थी, लेकिन मामला दूसरी तरफ चला गया। विक्रम यूनियन ने कहा कि जब वह स्टेज कैरिज परमिट की मांग करेंगे, तब सिटी बस महासंघ विरोध नहीं करेगा। जिस पर सिटी बस महासंघ ने कहा कि इस मांग का वह हमेशा विरोध करते आए हैं व आगे भी करेंगे। जिस पर महासंघ बनने से पहले ही उसमें फूट पड़ गई व विक्रम यूनियन ने बैठक बीच में ही छोड़ दी।

शहर में स्मार्ट सिटी के तहत लो-फ्लोर इलेक्टिक बसों का संचालन शुरू हो चुका है। अभी यह दो मार्गों पर चल रहीं, लेकिन धीरे-धीरे इनके मार्ग बढ़ाए जा रहे हैं। वहीं ई-रिक्शा की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही। सिटी बस महासंघ, विक्रम और आटो यूनियन समेत टाटा मैजिक यूनियन शुरू से इलेक्टिक बस व ई-रिक्शा का विरोध करते आ रहे हैं। मांग है कि इलेक्टिक बस शहर के बाहरी मार्गों पर चलाई जाएं व ई-रिक्शा मुख्य मार्गों के बजाए अंदरूनी गलियों तक सीमित रहें। मांग पूरी न होने पर सिटी बस महासंघ की ओर से मंगलवार को तहसील चौक स्थित दीन दयाल पार्क में एक बैठक बुलाई गई। जिसमें विक्रम, आटो, मैजिक व टैक्सी यूनियन के पदाधिकारी शामिल हुए।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.