Home उत्तराखंड राजनीति

त्रिवेंद्र सिंह रावत की दिनचर्या अब पहले जैसी व्यस्त नहीं; जाने पूरी खबर

मुख्यमंत्री पद के दायित्व से मुक्त होने के बाद त्रिवेंद्र सिंह रावत की दिनचर्या अब पहले जैसी व्यस्त नहीं है। न तो शासकीय बैठकों की चिंता और न ही विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी कार्यक्रमों में शामिल होने की व्यस्तता। हां, इतना जरूर है कि अभी भी उनके आवास पर विधायकों, पूर्व मंत्रियों व समर्थकों के मिलने का सिलसिला जारी है। गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री ने एक निजी अस्पताल में जाकर कोरोना की वैक्सीन भी लगावाई।

इस्तीफा देने के बाद भले ही त्रिवेंद्र सिंह रावत की भागदौड़ कम हुई है, लेकिन आवास पर मुलाकातों का सिलसिला थमा नहीं है। वह अभी भी अपने समर्थकों से घिरे नजर आ रहे हैं। गुरुवार का दिन भी कुछ ऐसा ही रहा। सुबह से ही बीजापुर स्थित मुख्यमंत्री आवास में उनके समर्थक जुटने शुरू हो गए थे। उनसे मुलाकात करने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री पत्नी के साथ दोपहर में एक निजी अस्पताल में कोरोना से बचाव को वैक्सीन लगाने गए। अस्पताल से वापस लौटने के बाद उन्होंने कुछ देर आराम किया। इसके बाद समर्थकों से मिलने का सिलसिला फिर शुरू हो गया।

उन्होंने मुस्कुराते हुए सबकी कुशलक्षेम पूछी, उनकी समस्याएं सुनी, तो उन्हें दूर करने का आश्वासन भी दिया। वहीं, समर्थकों ने मुख्यमंत्री के रूप में उनके द्वारा किए गए कार्यों के लिए आभार प्रकट किया। इस बीच पूर्व मंत्री धन सिंह रावत, विधायक राजेश शुक्ला, केदार रावत, गोपाल रावत, शक्तिलाल शाह और मुन्नी देवी भी उनसे मुलाकात करने पहुंचे। पूर्व मुख्यमंत्री ने इनसे काफी देर बातचीत की। उनके आवास पर काफी संख्या में पूर्व दायित्वधारी व समर्थक देर शाम तक मौजूद रहे।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.