Home उत्तराखंड राजनीति

विधानसभा की सल्ट सीट के उपचुनाव का कार्यक्रम घोषित ;भाजपा अब प्रत्याशी चयन को माथापच्ची में जुटी

भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह जीना के निधन के कारण रिक्त हुई विधानसभा की सल्ट सीट के उपचुनाव का कार्यक्रम घोषित होने के बाद भाजपा अब प्रत्याशी चयन को माथापच्ची में जुट गई है। इस कड़ी में कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य की अगुआई में तीन सदस्यीय टीम ने सल्ट में डेरा डाल लिया है। यह टीम पार्टी कार्यकत्र्ताओं के मन की थाह लेने के बाद शुक्रवार को दोपहर तक संभावित दावेदारों का पैनल प्रदेश अध्यक्ष को सौंपेगी।20 मार्च को भाजपा की प्रदेश चुनाव संचालन समिति की बैठक में पैनल में से एक नाम पर मुहर लगाकर केंद्रीय नेतृत्व को भेजा जाएगा। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक के मुताबिक पहले तो इसी दिन शाम को या फिर 21 मार्च को प्रत्याशी की घोषणा कर दी जाएगी। सल्ट सीट का उपचुनाव भाजपा की प्रतिष्ठा से भी जुड़ा है। इसे वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव की रिहर्सल के तौर पर देखा जा रहा है तो वहीं इसमें नए मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मदन कौशिक के कौशल की परीक्षा भी होनी है। इसे देखते हुए सरकार और संगठन सल्ट उपचुनाव को हल्के में लेने के मूड में नहीं है। उपचुनाव के सिलसिले में गुरुवार सुबह मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत, प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य व धन सिंह रावत ने विमर्श किया।

बैठक के बाद प्रदेश भाजपा अध्यक्ष कौशिक ने अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में उपचुनाव के दृष्टिगत लिए गए निर्णयों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य की अगुआई में तीन सदस्यीय टीम सल्ट पहुंच चुकी है। टीम में राज्यमंत्री डा.धन सिंह रावत व भाजपा के प्रदेश महामंत्री सुरेश भट्ट शामिल है। शुक्रवार दोपहर तक यह टीम पैनल प्रदेश अध्यक्ष को सौंपेगी। कौशिक के अनुसार 20 मार्च की शाम अथवा 21 मार्च को दोपहर तक प्रत्याशी के नाम का एलान कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जब भी भाजपा प्रत्याशी का नामांकन दाखिल होगा, उस दौरान मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष भी मौजूद रहेंगे। जल्द ही उपचुनाव के लिए चुनाव संचालन समिति भी गठित की जाएगी। कौशिक ने एक सवाल पर संकेत दिए कि मुख्यमंत्री सल्ट सीट से चुनाव नहीं लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि कैबिनेट मंत्री डा.हरक सिंह रावत, विधायक महेंद्र भट्ट ने मुख्यमंत्री के लिए अपनी-अपनी सीट छोडऩे की पेशकश की है। इस बारे में दोनों से बातचीत की जाएगी। उन्होंने कहा कि किसको कहां से चुनाव लडऩा है अथवा लड़ाना है, यह पार्टी का पार्लियामेंट्री बोर्ड तय करता है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.