onwin giriş
Home उत्तराखंड राजनीति

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने चमोली जिला पंचायत अध्यक्ष रजनी भंडारी पर लग रहे आरोपों को राजनीति से प्रेरित करार दिया

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने चमोली जिला पंचायत अध्यक्ष रजनी भंडारी पर लग रहे आरोपों को राजनीति से प्रेरित करार दिया। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में पूर्व मंत्री राजेंद्र भंडारी और उनकी पत्नी रजनी भंडारी की मजबूत पकड़ देखकर भाजपा नेता बौखला गए हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ लगातार साजिश रची जा रही है।मीडिया से बातचीत में प्रदेश अध्यक्ष गोदियाल ने आरोप लगाया कि भाजपा जिला पंचायत उपाध्यक्ष लक्ष्मण सिंह रावत का इस्तेमाल रजनी भंडारी के खिलाफ कर रही है। वर्ष 2011-12 में नंदा राजजात यात्रा की निविदाएं निकाली गईं थीं। इन निविदाओं को लेकर कुछ व्यक्तियों ने अनियमितता की शिकायत की। इस पूरे प्रकरण पर जांच बैठाई गई। जांच अधिकारी के रूप में सीडीओ और डीएम चमोली को अधिकृत किया गया।

गोदियाल ने दावा किया कि जांच अधिकारी की रिपोर्ट में जिला पंचायत अध्यक्ष को क्लीन चिट दी गई। उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट में चार साल तक रजनी भंडारी के खिलाफ केस लड़ने के बाद बदरीनाथ विधायक महेंद्र भट्ट मुंह की खा चुके हैं। उन्होंने कहा कि चुनावी साल में इस प्रकरण को दोबारा उठाने का मकसद सियासी हलचल पैदा करने के अलावा कुछ नहीं है। पार्टी मजबूती के साथ रजनी भंडारी के साथ खड़ी है।प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता डा प्रतिमा सिंह ने प्रदेश सरकार पर सूचना के अधिकार के तहत जानकारी उपलब्ध कराने से कतराने का आरोप लगाया। एक बयान में उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकत्र्ता ने विधानसभा सत्र के बारे में विधानसभा अध्यक्ष कार्यालय से सूचना मांगी गई थी। मुख्यमंत्री पुष्कर धामी के कार्यकाल सहित 2012 से उनके विधायक कार्यकाल में विधानसभा सत्र की अवधि में उनकी उपस्थिति के बारे में सूचना मांगी गई थी, लेकिन इसे मुहैया कराने से कन्नी काटी गई।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.