onwin giriş
Home उत्तराखंड राजनीति

मुख्यमंत्री धामी ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेडडी से आईडीपीएल, ऋषिकेश को स्पेशल टूरिज्म जोन प्रशासनिक स्वीकृति का अनुरोध किया

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेडडी से आईडीपीएल, ऋषिकेश को स्पेशल टूरिज्म जोन के रूप में विकसित किए जाने की योजना की प्रशासनिक स्वीकृति शीघ्र दिए जाने का अनुरोध किया। गुरुवार को नई दिल्ली में केंद्रीय पर्यटन मंत्री भेंट के दौरान मुख्यमंत्री ने यह बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि आईडीपीएल, ऋषिकेश में 600 एकड में बायोडायवर्सिटी पार्क, इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर, रिजार्ट, होटल व वैलनेस सेंटर बनाए जाने प्रस्तावित हैं।उत्तराखंड में पर्यटन विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों की जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में राज्य सरकार, उत्तराखंड को पर्यटन, तीर्थाटन के साथ ही साहसिक खेलों के विश्व स्तरीय केंद्र के रूप में विकसित करने की दिशा में काम कर रही है।

मुख्यमंत्री ने गंगोत्री व यमुनोत्री धाम में तीर्थयात्रियों की सुविधाओं को बढ़ाए जाने के लिए 55 करोड रुपये की धनराशि की स्वीकृति पर आभार व्यक्त करते हुए केंद्रीय पर्यटन मंत्री को उत्तराखंड आने के लिए आमंत्रित किया। केंद्रीय पर्यटन मंत्री ने कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन विकास के लिए पर्यटन मंत्रालय द्वारा हर संभव सहयोग दिया जाएगा। इस अवसर पर केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट, मुख्यमंत्री के अपर प्रमुख सचिव अभिनव कुमार व पर्यटन मंत्रालय के अधिकारी उपस्थित थे।

श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत श्रीनगर बाजार में प्रस्तावित बस अड्डे एवं पार्किंग के शीघ्र निर्माण के अधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। चौबट्टाखाल एवं पैठाणी में टैक्सी स्टैंड के निर्माण के कार्य में तेजी लाने को कहा गया है।

कैबिनेट मंत्री डा धन सिंह रावत ने गुरुवार को विधानसभा स्थित सभागार में श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र की परिवहन विभाग की योजनाओं की समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने कहा कि श्रीनगर चार धाम यात्रा का प्रमुख पड़ाव होने के साथ ही गढ़वाल मंडल का केंद्र बिंदु भी है। यहां प्रतिदिन हजारों वाहनों का आवागन होता है। बस अड्डा व पार्किंग की पर्याप्त व्यवस्था न होने के कारण चार धाम यात्रियों सहित स्थानीय जनता को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसे देखते हुए श्रीनगर में अत्याधुनिक बस अड्डा एवं पार्किंग का निर्माण प्रस्तावित है। उन्होंने कहा कि इसके निर्माण के लिए अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए गये हैं। निर्माण कार्यों के लिए किसी भी प्रकार की धन की कमी आड़े नहीं आएगी। बैठक में प्रभारी सचिव आवास सुरेंद्र नारायण पांडेय, अपर सचिव परिवहन डा आनंद श्रीवास्तव, प्रबंध निदेशक उत्तराखंड परिवहन निगम अभिषेक रूहेला, महाप्रबंधक परिवहन हर गिरी सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.