onwin giris
Home जॉब देश राजनीति

बलिया में प्रदर्शनकारी युवाओं ने  रेलवे लाइन पर खड़ी ट्रेन की एक खाली बोगी में आग लगा दी

अग्निपथ योजना के विरोध में बलिया में बवाल सुबह से ही शुरू हो गया है। अराजक तत्वों ने रेलवे लाइन पर खड़ी ट्रेन की एक खाली बोगी में आग लगा दी। जगह-जगह पत्थरबाजी की खबर है।अग्निपथ योजना को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इसे लेकर बलिया में शुक्रवार तड़के ही युवा सड़कों पर उतर आए। इस दौरान युवाओं ने जहां स्टेडियम में योजना के विरोध में पुलिस को पत्रक सौंपा। वहीं प्रदर्शनकारी युवाओं ने  रेलवे लाइन पर खड़ी ट्रेन की एक खाली बोगी में आग लगा दी। स्टेशन पर भी तोड़फोड़ करने के साथ जमकर पत्थरबाजी भी की। मौके पर पहुंची भारी फोर्स ने दर्जनों युवाओं को हिरासत में लिया है। युवाओं को तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग भी करना पड़ा।

वाराणसी कैंट रेलवे स्टेशन पर भी अग्निपथ योजना को लेकर विरोध और हंगामा जारी है। रोडवेज और ट्रेनों के परिचालन पर असर पड़ा है।  जौनपुर में सेना की तैयारी कर रहे युवाओं ने वाजिदपुर तिराहे पर जाम कर दिया है। जेसीज चौराहा समेत कई प्रमुख मार्गों पर  वाहनों की कतार लग गई है। इससे वाराणसी, प्रयागराज , लखनऊ आजमगढ़ मार्ग पर आवागमन बाधित हो गया है। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट हिमांशु नागपाल मौके पर पहुंचे हैं। बड़ी संख्या में फोर्स तैनात कर दी गई है।अग्निपथ योजना के विरोध में शुक्रवार तड़के ही युवाओं के कई गुटों में एकत्र होने की सूचना पर बलिया पुलिस सक्रिय हो गई। युवाओं का गुट स्टेडियम, काजीपुरा और एससी कॉलेज के आसपास में एकत्रित था। स्टेडियम में युवाओं ने सीओ प्रीति त्रिपाठी को अग्निपथ योजना के विरोध में पत्र सौंपा। इसके बाद वापस जाने के लिए रेलवे स्टेशन की तरफ बढ़े।इस दौरान स्टेशन पर बवाल शुरू कर दिया और पत्थरबाजी करने के साथ ही तोड़फोड़ शुरू कर दी। रेलवे स्टेशन स्थित दो दुकानों को क्षतिग्रस्त कर दिया। पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग किया तो रेलवे लाइन पर खाली खड़ी ट्रेन की एक बोगी में आग लगा दी। आग की सूचना के बाद मौके पर फायर बिग्रेड को बुला लिया गया। युवा जगह-जगह पत्थरबाजी करते रहे। पुलिस पुलिस युवाओं को दौड़ाकर तितर-बितर करती रही।

एसपी राजकरण नैयर ने बताया कि प्रदर्शनकारियों के एक अन्य समूह ने रेलवे स्टेशन के बाहर सड़क पर लाठी-डंडों के साथ पुलिस से बहस की और रेलवे स्टेशन स्थित दुकानों और बेंचों को तोड़ना शुरू कर दिया। युवाओं को तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग करना पड़ा। एसपी ने बताया कि कई लोगों को हिरासत में लिया गया है। आज के वीडियो के आधार पर  उपद्रवियों को चिन्हित किया जा रहा है।

अग्निपथ योजना का पूर्वांचल में हुए विरोध का असर रेल परिचालन पर पड़ा है। देवरिया में रेल मार्ग बाधित किए जाने के लिए पूर्वोेत्तर रेलवे के बनारस मंडल की ट्रेनों को एहतियातन विभिन्न स्टेशनों पर बृहस्पतिवार को रोकना पड़ा। इसके चलते रेल यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

विरोध प्रदर्शनों के चलते 14006 लिच्छवी एक्सप्रेस भटनी में सुबह 10:25 से दोपहर 2:10 बजे तक, 14005 लिच्छवी एक्सप्रेस दुरौंधा में 10:03 से 4.05 तक, 15232 गोंदिया-बरौनी एक्सप्रेस छपरा में 10 बजे से 1:20 तक, 12562 स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस बलिया में 10:47 से 5.05 तक, 15054 लखनऊ-छपरा एक्सप्रेस गाजीपुर सिटी में 11 से 11:35 तक बजे रोकी गईं। वहीं, 11061 लोकमान्य तिलक टर्मिनल-जयनगर पवन एक्सप्रेस वाराणसी सिटी में 12:45 से 1:23 तक, 12791 सिकंदराबाद-पटना एक्सप्रेस को ज्ञानपुर रोड में 11:44 से 3:10 तक  रोकना पड़ा।यहां ट्रेनों को दो से ढाई घंटे की देरी से चलाया गया। इस दौरान रेल प्रशासन के निर्देश पर आरपीएफ और जीआरपी हाई अलर्ट पर रही। पूर्वोत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार के मुताबिक विरोध प्रदर्शनों का असर रेल यातायात पर पड़ा है। एहतियातन ट्रेनों को सुरक्षित परिचालन के लिए रोका गया।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.