प्रदेशभर में बोर्डिंग स्कूल खोलने के लिए सख्त मानक जारी , 02 नवंबर को खुलेंगे  सारे स्कूल 

Facebooktwittermailby feather

उत्तराखंड : राज्य में स्कूलों को खोलने के लिए एसओपी का खाका तय कर लिया गया। बोर्डिंग स्कूलों के लिए भी कोरेाना संक्रमण की रोकथाम के लिए सख्त मानक तय किए गए हैं।  शिक्षा विभाग प्रस्तावित एसओपी पर स्वास्थ्य और आपदा प्रबंधन विभाग से राय लेने के बाद इसे लागू करेगा। मंगलवार को शिक्षा निदेशालय एसओपी का प्रस्तावित ड्राफ्ट सरकार को सौंप देगा।

मालूम हो कि अनलॉक-05 के तहत रियायत मिलने पर राज्य सरकार ने भी स्कूलों को दोबारा शुरू करने का निर्णय किया है। अभिभावकों और शिक्षकों की राय के बाद प्रथम चरण में 02 नवंबर से केवल 10 वीं और 12 वीं कक्षा के छात्रों को ही स्कूल आने की अनुमति दी जा रही है। सूत्रों के अनुसार मानव संसाधन विकास मंत्रालय और यूपी सरकार की एसओपी के आधार पर राज्य की एसओपी का खाका तैयार किया जा रहा है।

इन दोनों में करीब करीब सभी पहलुओं को छुआ गया है। सूत्रों के अनुसार यूपी ने नवीं से 12 वीं तक सभी कक्षाओं को खोला है। लेकिन बोर्डिंग स्कूलों के लिए मानक तय नहीं किए हैं। राज्य में बोर्डिंग स्कूलों की संख्या ज्यादा होने की वजह से एसओपी को कुछ ज्यादा विस्तार दिया गया है।

संपर्क करने पर शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने बताया शिक्षा सचिव की अध्यक्षता में पिछले दिनों हुई बैठक में एसओपी का रूप काफी कुछ तय कर लिया गया था। राज्य के परिप्रेक्ष्य में कुछ महत्वपूर्ण पहलुओं को इसमें अलग से शामिल किया गया है।

एसओपी का खाका तय कर लिया गया है। कोशिश की जा रही कल इसे स्वास्थ्य और आपदा प्रबंधन विभाग को दे दिया जाए। दोनों विभाग के सुझावों को भी इसमें शामिल किया जाएगा।

You may have missed