Home उत्तराखंड मेडिकल

इन रंगों से त्वचा में एलर्जी, आखों में जलन और पेट की हो सकती हैं समस्याएं ;डॉ. अनिल आर्य

वरिष्ठ चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. अनिल आर्य ने बताया कि सिंथेटिक रंगों में ब्रोमाइड के अलावा क्रोमियम, कॉपर सल्फेट, आयरन सल्फाइड, जिंक, निकिल, ब्लैक लेड ऑक्साइड, क्रोमियम आयोडाइड, सिल्वर एल्युमिनियम ब्रोमाइड, मर्करी सल्फेट, टाइटेनियम, कोबाल्ट, कोबाल्ट अमोनिया, कॉपर सहित कई हानिकारक तत्व और धातु मिले होते हैं।

इनसे त्वचा कैंसर तक होने का खतरा रहता है। इन रंगों से त्वचा में एलर्जी, आखों में जलन और पेट की समस्याएं भी हो सकती हैं। इसलिए कोशिश करें कि ऑर्गेनिक या हर्बल रंगों से ही होली खेलें। हालांकि, इन आसानी से इन रंगों की पहचान संभव नहीं है। इससे बचने के लिए फूल, पत्तियों से तैयार रंगों का इस्तेमाल किया जा सकता है।गूंज संस्था ने जरूरतमंद बच्चों को पिचकारी, उपहार व होली के रंग भेंट कर उनके साथ होली खेली। संस्था की अध्यक्ष डॉ. सोनिया आनंद रावत ने अपने सहयोगियों भावना गोस्वामी आदि के साथ कुलड़ी पार्किंग में बच्चों को उपहार भेंट किए। डॉ. सोनिया आनंद रावत ने कहा कि मैंने गरीबी को करीब से देखा है और होली के मौके पर हमें भी इंतजार रहता था कि कब हमें रंग-पिचकारी मिलेगी और हम होली खेलेंगे।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.