onwin giris
Home

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत बुधवार को धर्मनगरी हरिद्वार पहुंंचे 

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत बुधवार को धर्मनगरी हरिद्वार पहुंंचे और श्री पूर्णानंद आश्रम के 68वें वेदांत सम्मेलन में भाग लिया। उन्‍होंने कनखल स्थित श्री पूर्णानंद आश्रम कृष्ण निवास में श्री गुरु चरण की मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा की। इसके बाद मोहन भागवत ने श्रीगुरु मंदिर का लोकार्पण किया।कार्यक्रम को लेकर आयोजकों और स्थानीय पुलिस प्रशासन ने सख्त सुरक्षा बंदोबस्त किए हैं। बताया जा रहा है कि इस दौरान संघ प्रमुख की सभी प्रमुख संत महात्माओं के साथ एकांत में वार्ता होगी। मीडिया को प्रवेश की अनुमति नहीं दी जा रही है।

कार्यक्रम में योग गुरु बाबा रामदेव, श्री पंच दशनाम जूना अखाड़ा के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी, निरंजनी अखाड़े के आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी कैलाशानंद गिरी, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद महानिर्वाणी के अध्यक्ष श्री महंत रवींद्र पुरी महाराज सहित बड़ी संख्या में प्रमुख संत महात्मा मौजूद हैं। इससे पहले मंगलवार को रायवाला (देहरादून) में गंगा तट पर स्थित आरोवैली आश्रम में संघ प्रमुख से जूना अखाड़ा के आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरी ने मुलाकात की।

संघ प्रमुख भागवत समेत देशभर से संघ के चयनित प्रतिनिधियों ने रायवाला के आरोवैली आश्रम में संघ की अखिल भारतीय स्तर की चिंतन बैठक में हिस्सा लिया।पांच से 11 अप्रैल तक चली इस बैठक में विभिन्न विषयों पर मंथन हुआ और आगामी कार्ययोजना के लिए 27 बिंदु प्रस्तावित किए गए। सोमवार शाम को बैठक के समापन के बाद 60 प्रतिनिधि वापस लौट गए थे, जबकि शेष पदाधिकारी मंगलवार को रवाना हुए। संघ प्रमुख मोहन भागवत अभी रायवाला में ही रुके हैं।मंगलवार को जूना अखाड़ा के आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरी ने रायवाला पहुंचकर आरावैली आश्रम में संघ प्रमुख से शिष्टाचार मुलाकात की। बताया गया कि संघ प्रमुख बुधवार को सुबह दस बजे रायवाला से हरिद्वार के लिए प्रस्थान करेंगे। वह हरिद्वार स्थित एक आश्रम में आयोजित कार्यक्रम में भाग लेने के बाद शाम को दिल्ली रवाना हो जाएंगे।

 

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.