बद्रीनाथ धाम में श्रद्धालुओं को रात्रि विश्राम करने की अनुमति मिली

Facebooktwittermailby feather

चार धाम यात्रा दर्शन को खुले दो माह से अधिक हो समय हो गया है, लेकिन कोरोना काल में बदरीनाथ में केवल दर्शन की अनुमति प्रशासन ने दी थी अन्य धामों में श्रद्धालुओं को रात्रि विश्राम की अनुमति नहीं थी। अब बदरीनाथ में दर्शन के लिए यात्री गढ़वाल मंडल विकास निगम के अतिथि गृह में रुक सकते है। कोरोना की वजह से श्रद्धालु बदरीनाथ पहुंच तो रहे थे पर दर्शन की अनुमति मिलने और रात्रि विश्राम की अनुमति न मिलने से उन यात्रियों को परेशानी हो रही थी। यात्रियों को एक दिन में ही दर्शन करके वापस लौटने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।

बदरीनाथ में जीएमवीएन होटल देव लोक में 30 कमरे टीआरएच में 8 कमरे 500 बैड, यात्री निवास में 460 बैड में से 210 खोल दिए गए हैं। जबकि 250 बेड रिजर्व में रखे गए हैं, अब जिन्होंने बदरीनाथ में जीएमवीएन के अतिथि गृह के लिए ऑनलाइन बुकिंग रात्रि विश्राम के लिए की है, ऐसे यात्री अब इस अतिथि गृह में रात्रि विश्राम कर सकेंगे। सभी भवनों में भोजन की व्यवस्था पूर्ण रूप से रहेगी। साथ ही ऑनलाइन पेज पर भी बुकिंग खोल दी गई है। श्रद्धालु ऑन लाइन बुकिंग कर रात्रि विश्राम के लिए कक्ष बुक करवा पाएंगे।
उप जिला अधिकारी ने यह भी बताया कि बदरीनाथ दर्शन अनुमति मिलने के बाद यात्रियो़ं की संख्या में हर दिन वृद्धि हो रही है।