टेक्नोलॉजी बिज़नेस

मंगल पर रहने की वास्तविकता को लेकर नासा ने तीन घर डिज़ाइन किये , टॉप तीन विजेताओं को मिला पुरूष्कार

ग्रहों पर रहने की वास्तविकता को लेकर नासा ने एक और कदम उठायापर रहने की वास्तविकता को लेकर नासा ने तीन घर डिज़ाइन किये जिसमे लोगों को चंद्रमा और मंगल पर भेजने के लिए नवीनतम विकास है 3 डी-प्रिंटेड हैबिटेट चैलेंज’ के लिए शीर्ष तीन फाइनलिस्ट के नाम की नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने घोषणा की है। ग्रहों पर रहने की वास्तविकता को लेकर नासा ने एक और कदम उठाया है। यह चैलेंज 2015 में शुरू हुआ था, जिसमें टीम के सदस्यों को चांद और मंगल पर रहने के लिए घर के उपयुक्त डिजाइन को तैयार करना था।

मॉडलिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर बनाया डिजाइन
प्रतियोगिता के तीसरे फेज के चौथे चरण के लिए, 11 टीमों को मॉडलिंग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके अपने डिजाइनों को तैयार करने के लिए कहा गया। इसके बाद शॉर्ट वीडियोज से उन्होंने अपनी पसंद बताई। हर एक मॉडल का मूल्यांकन वास्तुशिल्प लेआउट और सौंदर्यशास्त्र के साथ-साथ उनके निर्माण, मापनीयता और विशेस्ताओं के साथ किया गया था।

तीन फाइनलिस्ट विजेताओं को बाटा गया पुरुष्कार 
न्यूयॉर्क बेस्ड टीम में ‘सर्च प्लस/एपिस कॉर’ ने अपने यूनिक और ट्विस्टेड डिजाइन के चलते पहला स्थान हासिल किया। अपने मॉड्यूलर डिजाइन को दिखाने के बाद ‘जॉपरहॉस’ रनर-अप रही। तीनों टीमों के बीच 100,000 डॉलर (69,35,000 रुपये) का पुरस्कार बांटे गए।

अगला राउंड मई के शुरुआत में होगा। इसमें विजेता अपने डिजाइन का 3-डी प्रिंट स्केल मॉडल को तैयार करेंगे। उसके लिए 800,000 डॉलर (5,54,80,000 रुपये) का उपहार है। यह प्रतियोगिता नासा के मिशन में लोगों को चंद्रमा और मंगल ग्रह पर वापस भेजने के लिए एक नवीनतम विकास है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.