Latest:
Home उत्तराखंड कोरोना बुलेटिन

कोरोना महामारी के जरूरतमंदों का इलाज, रक्तदान, प्लाज्मा दान व अंतिम संस्कार का कार्य भी पुलिस की ओर से

कोरोना महामारी के दौरान कानून व्यवस्था बनाने के साथ ही पुलिस लोगों की सहायता भी कर रही है। जरूरतमंदों का इलाज, रक्तदान, प्लाज्मा दान व अंतिम संस्कार का कार्य भी पुलिस की ओर से किया जा रहा है।

भगवानपुर निवासी व्यक्ति का कोरोना संक्रमण के दौरान निधन हो गया। मृतक का बेटा भी सुशीला तिवारी अस्पताल में एडमिट है। ऐसे में मृतक का शव अंतिम संस्कार के इंतजार में मंगलवार की रात से ही पड़ा हुआ था। घर में मृतक की पत्नी, बहू व एक मासूम बच्ची ही मौजूद हैं। मृतक के पड़ोसी ने मामले की सूचना पुलिस को दी। एसओ सुशील कुमार ने बताया कि पुलिस की ओर से मृतक का अंतिम संस्कार किया गया। मेडिकल कॉलेज पुलिस चौकी प्रभारी मनवर सिंह नियमित रूप से कोरोना मृतकों के दाह संस्कार की व्यवस्था में लगे हुए हैं।

बीमार व्यक्ति को निजी खर्च से दवाएं खरीदकर एसएसपी पीआरओ ने भेजवाई। चार मई को एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी के फोन पर दिल्ली बेस एयरफोर्स कर्मचारी का फोन आया। एयरफोर्स कर्मचारी ने बताया कि शिवशक्ति बिहार निवासी उनका भाई बीमार है। जिसे दवाओं की अति आवश्यकता है। एसएसपी के पीआरओ नंदन रावत ने चीता पुलिस को फोन कर उनके निवास पर दवाएं भेजी।

कोरोना संक्रमण काल में प्लाज्मा व रक्तदान की आवश्यकता बढ़ गई है। ऐसे में पुलिस की ओर से प्लाज्मा व रक्तदान कर लोगों को इसके लिए प्रेरित किया गया। इसी क्रम में बुधवार को प्रभारी निरीक्षक लालकुआं संजय कुमार, उपनिरीक्षक रोहताश सिंह सागर ने सुशीला तिवारी अस्पताल में रक्तदान किया। जबकि बनभूलपुरा थाने के पूर्व प्रभारी मोहम्मद युनुस ने प्लाज्मा दान कर लोगों को प्रेरित किया। इससे पहले एसपी क्राइम देवेंद्र पिंचा ने भी प्लाज्मा दान किया था।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.