onwin giriş
Home देश राजनीति

हिमाचल से भावनात्‍मक रिश्‍ता रहा है; पीएम मोदी

काशी के बाद छोटी काशी में बाबा भूतनाथ, महामृत्‍युंजय जी का आशीर्वाद लेने का मौका मिला। प्रदेश के सभी देवी देवताओं को नमन किया। मंडयाली में भाषण शुरू किया। हिमाचल से भावनात्‍मक रिश्‍ता रहा है। पीएम मोदी ने मंडी की सेपु बड़ी, बदाणा को याद किया। पीएम ने कहा मंच से कहा जब भी मंडी आता हूं तो मंडयाली धाम का ख्‍याल आ ही जाता है। रेणुका जी आस्था का केंद्र है। भगवान परशुराम व उनकी मां रेणुका जी ने आज देश के विकास में योगदान दिया।बिजली प्रोजेक्ट से लोगों की आकांक्षा पूरी होगी। रेणुका मां व परशुराम की धरती से देश के लिए आज नई धारा निकली है। लोगों का जीवन सरल बनाने के लिए बिजली की अहम भूमिका है। पढ़ाई, उद्योग व मोबाइल चार्ज करने के लिए बिजली जरूरी है।पीएम मोदी ने कहा पार्टी प्रभारी रहते हुए मेरे जीवन को हिमाचल ने दिशा देने का काम किया है। मोदी लंबे समय तक हिमाचल प्रदेश में भाजपा के प्रभारी रहे हैं व इस दौरान उन्‍होंने प्रदेश के विभिन्‍न क्षेत्रों का रुख किया है।

चार साल में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व उनकी टीम के नेतृत्व में नए आयाम छुए हैं। एम्स व मेडिकल कॉलेजों की सौगात दी। सड़कों की हालत सुधारने के प्रयास किए हैं। पीएम मोदी ने कहा प्रदर्शनी से मन अभिभूत हुआ।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने सोमवार को हिमाचल प्रदेश को चार बड़ी परियोजनाओं की सौगात दी। हिमाचल सरकार के चार साल पूरे होने पर मंडी में भव्‍य कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। पीएम मोदी पौने एक बजे मंच पर पहुंचे। मंच से हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। मंच पर मात्र सात लोग मौजूद रहे। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मंच पर दोबारा पीएम मोदी का स्वागत किया। स्मृति चिन्ह के रूप में त्रिशूल भेंट किया। त्रिशूल में डमरू भी लगा है।मंडी के पड्डल मैदान में जनसभा के दौरान केंद्रीय मंत्री एवं हमीरपुर से सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा जिस काम को मोदी ने अपने हाथ में लिया वह नामुमकिन नहीं हो सकता, क्‍योंकि मोदी हैं तो मुमकिन हैं। अनुराग ने कहा कि उनसे विपक्ष ने पूछा कि मोदी से क्या मांगोंगे, मैंने कहा हमे मांगने की जरूरत नहीं है। स्वास्थ्य क्षेत्र में मोदी की सरकार ने मेडिकल कालेज और एम्स दिए। मोदी ने हिमाचल आईएमएम, हाइड्रो कालेज, मेडिकल कालेज दिए। रेलवे को लेह तक ले जाने के लिए काम किया तो मोदी ने किया। अटल टनल भी मोदी सरकार ने बनाई।

पीएम मोदी सुबह कांगणीधार हेलीपैड पर सेना के हेलीकाप्‍टर से पहुंचे। पीएम मोदी का दोपहर डेढ़ बजे तक मंडी में रुकने का कार्यक्रम है। पीएम को सुनने के लिए लोगों में भारी उत्‍साह है, धूप खिलने के साथ-साथ पंडाल पूरी तरह से भर गया। प्रधानमंत्री के साथ मंच पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, राज्यपाल राजेंद्र आर्लेकर, प्रदेश से लोकसभा व राज्यसभा के सदस्य, केंद्रीय मंत्री व पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल मौजूद रहे। प्रदेश भाजपा के वरिष्‍ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार विदेश में हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा कार्यक्रम में नहीं आए।पीएम मोदी 28 हजार करोड़ की ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी का भी आगाज किया। इस दौरान उन्‍होंने चार इन्‍वेस्‍टर्स के साथ संवाद भी किया। इसके अलावा सरकार की चार साल की उपलब्धियों की प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। पीएम मोदी के स्‍वागत में दो सौ बजंतरियों ने एक साथ पारंपरकि वाद्य यंत्र से स्‍वागत धुन बजाई।प्रधानमंत्री प्रदेश के लिए 11,281 करोड़ रुपये लागत की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित की। प्रधानमंत्री जिला शिमला में पब्बर नदी पर 2081.60 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 111 मेगावाट क्षमता की सावड़ा-कुड्डू जल विद्युत परियोजना को प्रदेशवासियों को समर्पित की। यह जल विद्युत परियोजना प्रतिवर्ष 386 मिलियन यूनिट विद्युत का उत्पादन करेगी, जिससे प्रदेश को 120 करोड़ रुपये वार्षिक आय होगी।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.