पहाड़ में तेजी बढ़ता कोरोना का ग्राफ

Facebooktwittermailby feather

15 मई आते आते प्रवासियों की वापसी बढ़ी और उसके साथ ही मरीजों की संख्या में भी लगातार इजाफा हो रहा है। एक ही दिन में बड़ी संख्या में मरीजों के आने से 24 मई के बाद से हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं।

पिछले एक सप्ताह के दौरान राज्य में छह सौ के करीब मिले हैं। राज्य में अभी तक पॉजिटिव पाए गए प्रवासियों में सबसे बड़ी संख्या महाराष्ट्र से आए लोगों की है। सरकार के आंकड़ों के अनुसार पॉजिटिव पाए गए प्रवासियों में से 70 प्रतिशत से अधिक मरीज महाराष्ट्र से लौटे प्रवासी हैं। 

पहाड़ में भी तेजी से फैला संक्रमण 
राज्य के अधिकांश पर्वतीय जिले पहला मरीज मिलने के दो महीने बाद तक   ग्रीन जोन में थे। लेकिन 24 मई के बाद पर्वतीय जिलों में मरीजों के पॉजिटिव आने से तस्वीर बदल गई और सभी जिले ऑरेंज श्रेणी में आ गए। अब मैदान के साथ ही पहाड़ के जिलों में भी तेजी से मामले बढ़ रहे हैं। जिससे सरकार की चुनौती बढ़ रही है। 

इस प्रकार से बढ़े मरीज 

  • 1 सप्ताह 15 से 21 मार्च –  3 मरीज 
  • 2 सप्ताह 22 से 28 मार्च –  3 मरीज 
  • 3 सप्ताह 29 मार्च से 4 अप्रैल – 16 मरीज 
  • 4वां सप्ताह 5 अप्रैल से 11 अप्रैल – 13 मरीज 
  • 5वां सप्ताह 12 अप्रैल से 18 अप्रैल – 7 मरीज 
  • 6वां  सप्ताह 19 अप्रैल से 25 अप्रैल – 6 मरीज 
  • 7वां सप्ताह 26 अप्रैल से 2 मई – 11 मरीज 
  • 8वां सप्ताह 3 मई से 9 मई – 8 मरीज 
  • 9वां सप्ताह 10 मई से 16 मई – 24 मरीज 
  • 10वां सप्ताह 17 मई से 23 मई – 153 मरीज 
  • 11वां सप्ताह 24 मई से 30 मई – 505 मरीज 
  • 12वां सप्ताह 31 मई से शुरू  53 मरीज