onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

 प्रदेश के सभी जिलों में शुरू की जा चुकी मोबाइल ई कोर्ट सेवा के संचालन में पिथौरागढ़ जिले सबसे आगे

 प्रदेश के सभी जिलों में शुरू की जा चुकी मोबाइल ई कोर्ट सेवा के संचालन में पिथौरागढ़ जिले सबसे आगे है। यहां अभी तक ई कोर्ट में एक दर्जन से अधिक मामलों में गवाही हो चुकी है। जबकि अन्य जिलों की रफ्तार अभी बेहद धीमी है। हाई कोर्ट भी इन मोबाइल कोर्ट की मॉनटरिंग कर रहा है।15 अगस्त को नैनीताल हाई कोर्ट परिसर से राज्य के पांच पर्वतीय जिलों उत्तरकाशी, चमोली, टिहरी तथा पिथौरागढ़, चंपावत के लिए मोबाइल ई कोर्ट वाहन शुरू किए गए थे। इस सप्ताह शेष आठ जिलों के लिए ई मोबाइल कोर्ट वाहनों को हरी झंडी दिखाई गई है। हाई कोर्ट के अनुसार शुरुआत में इंटरनेट कनेक्टिविटी को लेकर दिक्कतें तथा फिर मोबाइल वाहनों के बीमा को लेकर तस्वीर साफ नहीं होने से ई कोर्ट संचालन में देरी हुई। पांच पर्वतीय जिलों में से सीमांत पिथौरागढ़ एक मात्र जिला है, जहां एक दर्जन से अधिक मामलों में गवाहों के बयान दर्ज हो चुके हैं।राष्‍ट्रीय लोक अदालत के मौके पर भी पिथौरागढ़ में मोबाइल ई कोर्ट का संचालन किया जा रहा है। उत्तरकाशी में भी दो मामलों को लेकर कार्रवाई हो चुकी है। इसमें दिव्यांग की गवाही प्रमुख है। हाई कोर्ट के रजिस्ट्रार कंप्यूटर अंबिका पंत ने माना कि पिथौरागढ़ जिला ई मोबाइल कोर्ट संचालन में प्रदेश में सबसे आगे है। उन्होंने बताया कि अन्य जिलों की रिपोर्ट ली जा रही है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.