अब दिव्यांग के लिए हरकी पैड़ी जाने के लिए बनाए जाएंगे रैंप

Facebooktwittermailby feather

अभी तक हरकी पैड़ी के पास ऐसी कोई व्यवस्था नहीं थी कि दिव्यांग गंगा घाट तक पहुंच सकें। ऐसे में गंगा में स्नान करने की चाह रखने वाले दिव्यांगों को निराशा होती थी। लेकिन अब सरकारी कार्यालयों की तरह अब हरकी पैड़ी पर भी दिव्यांगों के लिए रैंप बनेंगे।दिव्यांग भी अब सामान्य लोगों की तरह हरकी पैड़ी पर आसानी से गंगा में डुबकी लगा पाएंगे। गंगा घाट जाने के लिए कम से कम 20 से 22 सीढ़ियां पार करनी होती हैं, जो दिव्यांगों के लिए काफी मुश्किल होता है। इस समस्या को ध्यान मे रखते हुए मेला प्रशासन ने कार्ययोजना को अमलीजामा पहनाने के लिए सिंचाई विभाग से रैंप बनाने का प्रस्ताव मांगा है। कुंभ बजट से ही इसका निर्माण किया जाएगा। साथ ही हरकी पैड़ी पर काम करने वाली सिंचाई विभाग की कार्यदायी संस्था से प्रस्ताव मांगा है। कार्यदायी संस्था अवलोकन करने के बाद तय करेगी कि हरकी पैड़ी पर रैंप कहां और कैसे बनेगा। गंगा सभा के पदाधिकारियों से भी इस बारे में बात की जाएगी। प्रयास यही है कि महाकुंभ से पहले ही रैंप बन जाए।