onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

विधानसभा का मानसून सत्र मंगलवार को सरकार की ओर से 5370 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश करने के अलावा छह विधेयक भी प्रस्तुत किए जाएंगे

विधानसभा का मानसून सत्र भले ही सोमवार से शुरू हो गया, लेकिन सत्तापक्ष और विपक्ष में असली जोर-आजमाइश मंगलवार से दिखेगी। मंगलवार को सरकार की ओर से 5370 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश करने के अलावा छह विधेयक भी प्रस्तुत किए जाएंगे। विपक्ष ने कोरोना से लड़ाई के मसले पर काम रोको प्रस्ताव लाने की बात कही है। इसके अलावा जिलों के गठन समेत अन्य मसलों पर विपक्ष की सरकार को घेरने की तैयारी है। संसदीय कार्यमंत्री बंशीधर भगत ने कहा कि सरकार विपक्ष के हर सवाल का जवाब सदन में तथ्यों व तर्कों के साथ देगी। इस सिलसिले में हमारी तैयारी पूरी है।मानसून सत्र के पहले दिन दिवंगत नेता प्रतिपक्ष डा.इंदिरा हृदयेश, उप्र के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री बची सिंह रावत समेत सात पूर्व विधायकों श्रद्धांजलि दी गई।

नतीजतन पहला दिन शांतिपूर्ण गुजरा, लेकिन मंगलवार से सत्र के हंगामेदार रहने के आसार हैं। इस बीच सोमवार देर शाम को हुई विधानसभा की कार्यमंत्रणा समिति की बैठक में मंगलवार का बिजनेस तय किया गया। मंगलवार को प्रश्नकाल व शून्यकाल तो चलेंगे ही, वर्ष 2022-22 के लिए अनुपूरक बजट के साथ ही विधेयक भी सरकार की ओर से पेश किए जाएंगे। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शाम चार बजे अनूपूरक बजट पेश करेंगेविपक्ष ने सरकार को सदन में घेरने की रणनीति बनाई है। नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि कोरोना से लड़ाई लड़ने में सरकार पूरी तरह विफल रही है। इस मसले पर मंगलवार को काम रोको प्रस्ताव लाया जाएगा। उन्होंने बताया कि राज्य में जिलों के गठन, नंदा गौरा योजना के लाभार्थियों को लाभ न मिलने, जाति प्रमाणपत्र निर्गत करने में जनसामान्य के समक्ष आ रही दिक्कतों और धारचूला क्षेत्र में नेटवर्किंग की समस्या जैसे विषयों को नियम-58 के तहत लाया जाएगा।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.