onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

प्रधानमंत्री मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों को लेकर प्रदेश सरकार की रफ्तार हुई तेजो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट में शामिल केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों को लेकर प्रदेश सरकार तेजी से कदम बढ़ा रही है। मास्टर प्लान के तहत केदारनाथ धाम को उसकी भव्यता के अनुरूप संवारा जा रहा है तो यात्रियों की सुविधाओं का भी ध्यान रखा जा रहा है। इस कड़ी में केदारनाथ पैदल मार्ग पर फैब्रिकेटेड रेन शेल्टर बनाए जाएंगे। शासन ने इसके लिए 1.68 करोड़ रुपये की पहली किस्त जारी कर दी है।केदारनाथ पैदल यात्रा के पहले पड़ाव गौरीकुंड से लेकर केदारनाथ तक यात्रियों की सुविधा के लिए जगह-जगह 4.22 करोड़ रुपये की लागत से फैब्रिकेटेड रेन शेल्टर का निर्माण कराया जाना है। इसके तहत गौरीकुंड से जंगलचट्टी तक रेन शेल्टर के लिए कुल लागत 1.33 करोड़ के सापेक्ष 53.30 लाख रुपये की पहली किस्त जारी की गई है। इसी तरह जंगलचट़्टी से भीमबली के लिए 1.43 करोड़ के सापेक्ष 57.84 लाख और भीमबली से रामबाड़ा के लिए 1.45 करोड़ के सापेक्ष प्रथम किस्त के रूप में 58.12 लाख रुपये की राशि अवमुक्त की गई है।

सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने बताया कि केदारनाथ पैदल मार्ग पर फैब्रिकेटेड रेन शेल्टर का निर्माण होने से केदारनाथ आने-जाने वाले तीर्थयात्रियों को लाभ मिलेगा। उन्होंने बताया कि कार्यदायी संस्था को शेल्टर का निर्माण उच्च गुणवत्ता के साथ जल्द पूर्ण कराने के निर्देश दिए गए हैं।अयोध्या में श्रीराम मंदिर संघर्ष पर आधारित पुस्तक ‘श्री रामलला मन से मंदिर तक’ के सिलसिले में केंद्रीय राज्यमंत्री अजय भट्ट ने अपने साथी लेखक कुमार सुशांत के साथ दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। उन्होंने प्रधानमंत्री को अवगत कराया कि इस पुस्तक का हिंदी के अलावा 10 अंतरराष्ट्रीय भाषाओं में भी अनुवाद हो रहा है। 21 देशों में इसका विमोचन होगा। केंद्रीय राज्यमंत्री भट्ट के अनुसार प्रधानमंत्री ने पुस्तक के लेखन कार्य की सराहना की। साथ ही इस विषय पर मार्गदर्शन भी दिया।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.