Home देश स्लाइड

मेेेक इन इंड़िया कि बना रेप इन इंडिया भारत,दशा व दुर्दशा

Facebooktwittermailby feather

भारत की दशा बिगडती नजर आ रही है बेटियों के मामले में एक के बाद एक केश सामने आ रहे है । अभी हाल ही में हैदराबाद की डाॅक्टर बिटिया के मामले से लोग उभरे न थे हाल हि मे एक और उन्नव कि घटना सामने आ गई एक तीन साल की और फिर एक 9 साल की लड़कि के सात एक 11 साल के लड़के ने खेल-खेल में लड़कि को खंडर में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया । रोजाना भारत में कई ऐसी घटनाए है जो कि सामने हि नही आते कुछ समाज के कारण
कुछ डर के कारण । आंकड़ो कि माने तो भारत मे रोजाना 1000 रेप केश दर्ज होते है । नतिजा अगर पिड़िता सुरक्षित जिवित है तो समाज के सवाल उसे जीने नहीें देते ।

हैरानि की बात यह है कि

भारत मे डेढ़ करोड़ वेश्याएं है । यह संख्या कई देशों की कुल जनसंख्या से भी अधिक है । हमारे देश भारत में गंगा नदी माता हैः
गाय पशु माता है:
धरती जमीन माता है:
मगर औरत वेश्या है: और वेश्या भी एक-दो हजार नही पूरी डेढ़ करोड़ हैं ।

शांति से पार्कों में बैठे प्रेमी जोड़ों पर लाठी-डंडों के जरिये जबरन संस्कृति सिखाने वाले लोगों को कोठों पर भी जाना चाहिए ताकि अपने हाथों से तैयार की गई वेश्या भी संस्कृति का बदसूरत चेहरा देख सकें । भारत माता है अथवा पिता हैः बेहुदा बहस के बीच ये सवाल भी पूरे जो़र से उठाना चाहिए कि भारत माता हो या पिता मगर उसकी डेढ़ करोड़ संताने वेश्या क्यों है!

संजय सिंधवाल जी(टिहरी गढ़वाल) के फेसबुक पेज से

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.