Home देश स्लाइड

करोड़पति की बीवी के कत्ल के राज ने होस उडा दिए

Facebooktwittermailby feather

भरी-पूरी दिल्ली में एक इज्जतदार खानदान की बहू और करोड़पति बिजनेसमैन की बीवी अचानक गायब हो जाती है. कायदे से शुरूआती खोजबीन के बाद जब उसका कोई सुराग नहीं मिलता. तभी घर वालों को उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट पुलिस में लिखा देनी चाहिए थी. मगर घर वाले ऐसा नहीं करते. इस दौरान पंद्रह दिन बीत जाते हैं. फिर पंद्रह दिन बाद जो सच सामने आता है, उसे सुन और जान कर हर कोई सन्न रह जाता है.

नैंसी के घरवालों को था शक

दिल्ली के जनकपुरी की रहने वाली 20 साल की नैंसी शर्मा अचानक रहस्यमयी तरीक़े से कहीं गायब हो गई. वो ना तो अपने ससुराल में थी और ना ही मायके में. कुछ दिनों तक लोगों को पता ही नहीं लगा कि नैंसी कहीं चली गई है, लेकिन जब हर गुज़रते दिन के साथ नैंसी तक पहुंचना मुश्किल होने लगा तो उसके मायके वालों को शक हुआ.

नैंसी के पिता ने दर्ज कराई FIR

असल में नैंसी का मोबाइल फ़ोन भी उसकी गुमशुदगी के दूसरे ही दिन यानी पिछले 11 नवंबर से ही हैरानी भरे तरीक़े से स्विच्ड ऑफ़ आ रहा था. ऐसे में लाख कोशिश के बावजूद उस तक पहुंचना मुमकिन नहीं था. और तब 25 नवंबर को नैंसी के पिता ने जनकपुरी थाने में अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई.

पति साहिल ने सुनाई अजब कहानी[object HTMLDivElement]

चूंकि नैंसी अपने पति साहिल के साथ ही रहती थी, पुलिस ने सबसे पहले साहिल से ही नैंसी की गुमशुदगी का राज़ पूछने का फ़ैसला किया. लेकिन जब साहिल से बात हुई तो उसने अजीब कहानी सुनाई, उसने बताया कि 11 नवंबर के रोज़ अचानक दिल्ली की एक ट्रैफिक लाइट पर नैंसी अभी आती हूं कह कर उतरी और गायब हो गई.

पूछताछ में साहिल पर हुआ शक

जाहिर है ये कहानी किसी के भी गले से नीचे नहीं उतरती. लिहाज़ा, पुलिस ने नैंसी के पति साहिल से ना सिर्फ़ उस ट्रैफिक लाइट का पता पूछा, बल्कि ये भी पूछा कि आख़िर नैंसी के गायब होने की खबर उसने अब तक पुलिस में क्यों नहीं दी? साहिल के पास इस सवाल का भी कोई जवाब नहीं था.

ऐसे खुला कत्ल का राज

ऐसे में पुलिस ने साहिल के साथ सख्ती तो की ही, साहिल के मोबाइल फ़ोन की कॉल डिटेल और पिछले कुछ दिनों में उसके फ़ोन की लोकेशन भी खंगाली. और बस इसी कोशिश से क़त्ल का राज़ खुल गया. साहिल पिछले कुछ दिनों से शुभम नाम के एक लड़के से दिन में कई-कई बार बात कर रहा था. और इत्तेफ़ाक से नैंसी की गुमशुदगी के रोज़ भी दोनों में कई बार बात हुई थी.

पानीपत की निकली मोबाइल लोकेशन

फ़ोन की पड़ताल से ये भी साफ़ हुआ कि उस रोज़ साहिल, उसकी बीवी नैंसी और शुभम भी एक साथ पानीपत की तरफ़ गए थे. ऐसे में अब साहिल उसके दोस्त शुभम के सामने सच बताने के सिवाय कोई चारा नहीं था. और तब दोनों ने मान लिया कि उन्होंने धोखे से गोली मार कर नैंसी की जान ले ली. और अब तक क़त्ल का राज़ छुपाने के लिए वो उसके ट्रैफिक लाइट से अपनी मर्ज़ी के कहीं चले जाने की झूठी कहानी लोगों को सुनाते रहे.

नैंसी का आखिरी सफर

लेकिन लव मैरिज के महज़ आठ महीने बाद हुई क़त्ल की ये वारदात जितनी डरावनी और अफ़सोसनाक थी, इसके पीछे की साज़िश भी उतनी ही भयानक. जिस दिन नैंसी गुम हुई थी. उस दिन भी नैंसी की अपने पति साहिल से लड़ाई हुई थी. मगर उस दिन लड़ाई के बाद साहिल बहुत जल्दी संभल गया. इसके बाद वो नैंसी को मनाता है और उसे खुश करने के लिए लॉंग ड्राइव पर चलने के लिए राजी कर लेता है. इसके बाद साहिल और नैंसी दिल्ली से दूर पानीपत के लिए निकल पड़ते हैं. ये नैंसी की ज़िंदगी का आखिरी सफर था.

नैंसी पर शक करता था साहिल

सेकेंड हैंड कारों का कारोबारी साहिल चोपड़ा और नैंसी की मुलाकात एक बर्थ डे पार्टी में हुई थी. दोनों को पहली ही नज़र में प्यार हो गया. और दोनों घरवालों से अलग लिव-इन में रहने लगे. कुछ महीने साथ रहने के बाद दोनों ने शादी भी कर ली, लेकिन ये शादी दोनों की ज़िंदगी में अज़ाब लेकर आई. लव मैरिज और एक-दूसरे के साथ रहने के बावजूद साहिल नैंसी पर किसी और से रिश्ते का शक करता था और इसी को लेकर दोनों के बीच झगड़े भी होते थे.

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.