onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

वीवीआइपी हो चुकी लालकुआं सीट पर कांग्रेस की डैमेज कंट्रोल की कोशिश सफल होती नहीं दिख रही

वीवीआइपी हो चुकी लालकुआं सीट पर कांग्रेस की डैमेज कंट्रोल की कोशिश सफल होती नहीं दिख रही है। टिकट मिलने और फिर छिनने पर निर्दलीय मैदान में कूदीं संध्या डालाकोटी को मनाने की कोशिश जारी है। रविवार को पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी आवास पर पहुंचे, लेकिन बात नहीं बन सकी। फिलहाल वह मैदान में डटी हुई हैं।

पूर्व ब्लाक प्रमुख संध्या डालाकोटी को पहले लालकुआं विधानसभा क्षेत्र से टिकट मिल गया था, मगर दूसरे ही दिन इस सीट से पूर्व सीएम एवं कांग्रेस के दिग्गज नेता हरीश रावत को मैदान में उतार दिया गया। इससे नाराज संध्या ने निर्दलीय ताल ठोंक रखी है। नामांकन भी करा लिया है। 31 जनवरी को नामांकन का आखिरी दिन है। इससे पहले यानी रविवार को कांग्रेस पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी गौलापार आवास पर संध्या को मनाने पहुंचे। उनके समर्थकों से बातचीत की, लेकिन बात नहीं बनी। संध्या के पति किरन डालाकोटी का कहना है कि चुनाव लडऩे को लेकर बात काफी आगे तक बढ़ चुकी है। वहीं रामनगर में कांग्रेस से बागी होकर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे संजय नेगी को मनाने की कोशिश नहीं नजर आई। रामनगर में संजय नेगी और किच्छा सीट पर पर हरीश पनेरू नामांकन के बाद से मैदान में डटे हुए हैं। जबकि सितारगंज सीट से नारायण पाल ने बसपा के टिकट पर नामांकन कराया है। लालकुआं में संध्या को मनाने के लिए पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी पहुंचे,लेकिन उन्होंने मैदान नहीं छोड़ा है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.