onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को झूठ का पुलिंदा बताया

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को झूठ का पुलिंदा बताया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की विश्वसनीयता शून्य है और जनता के साथ ही स्वयं कांग्रेस को इसका भान है। उन्होंने घोषणा पत्र जारी करने वाली कांग्रेस की वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी वाड्रा से पूछा कि ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ और चुनाव में 40 प्रतिशत महिलाओं को टिकट देने के उनके नारे का उत्तराखंड में क्या हुआ। कौशिक ने यह भी कहा कि मुस्लिम यूनिवर्सिटी, तुष्टीकरण और शुक्रवार की छुट्टी की बात करने वाली कांग्रेस अब उत्तराखंडियत का ढोंग रच रही है।कौशिक ने बुधवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कांग्रेस जो वादे कर रही है, उसकी उलट तस्वीर टिकट वितरण में दिखी है। कांग्रेस ने पहले दो महिलाओं को टिकट दिए और फिर काट दिए। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री उत्तराखंड आकर 500 रुपये में गैस सिलिंडर देने की बात करते है, जबकि छत्तीसगढ़ में एक सिलिंडर का दाम हजार रुपये है।

उन्होंने कहा कि राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री ने उत्तराखंड में महंगाई व बेरोजगारी की बात कही, जबकि राजस्थान में महंगाई व बेरोजगारी की दर उत्तराखंड से कई गुना ज्यादा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार ने वैट हटाकर पेट्रोल, डीजल के दाम कम किए, जबकि कांग्रेस शासित राज्यों की सरकारें ऐसा नहीं कर पाईं।कौशिक ने कहा कि कांग्रेस मलिन बस्तियों का मुद्दा उठा रही है, लेकिन उसने अपने कार्यकाल में कुछ नहीं किया। भाजपा ने मलिन बस्तियों को बचाने का काम किया। उन्होंने कहा कि पूर्व में गैरसैंण को राजधानी घोषित करने के संबंध में लाए गए निजी बिल को कांग्रेस ने गिरा दिया। भाजपा ने सत्ता में आने पर जनभावनाओं के अनुरूप निर्णय लेकर गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया। कांग्रेस के वादों पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस को बताए कि इन्हें पूरा करने को राजस्व कहां से आएगा।

एक प्रश्न पर उन्होंने कहा कि जिस भू-कानून का वादा कांग्रेस कर रही है, उसके लिए भाजपा पहले ही कमेटी बना चुकी है। कमेटी की संस्तुतियों के अनुसार यह कानून बनेगा। कर्मचारियों की पुरानी पेंशन बहाली से जुड़े प्रश्न पर उन्होंने कहा कि भाजपा तय प्रक्रिया के अंतर्गत इसके लिए प्रयास कर रही है। भाजपा के बागियों के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि सभी से बातचीत जारी है। यदि सफलता नहीं मिली तो एक-दो दिन में निष्कासन की कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि भाजपा का दृष्टिपत्र भी अंतिम चरण में है, जो एक-दो दिन में जनता के सामने आएगा।

 

 

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.