पुलवामा एनकाउंटर में कुत्ते की तरह मारा गया जैश का IED एक्सपर्ट फौजी भाई

Facebooktwittermailby feather

पुलवामा एनकाउंटर में सुरक्षाबलों ने बुधवार को जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादियों को मार गिराया है। इनमें से एक की पहचान अब्दुल रहमान उर्फ फौजी भाई उर्फ इस्माइल के रूप में हुई है। वह जैश का आईईडी एक्सपर्ट था और पिछले दिनों पुलवामा में जिस कार बम की साजिश को नाकाम किया गया था, वह इसी ने तैयार किया था।

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि अब्दुल रहमान पाकिस्तान के मुल्तान का रहने वाला था। वह दक्षिण कश्मीर में 2017 से सक्रिय था। दो अन्य आतंकवादियों की पहचान की जा रही है।

आईजीपी कश्मीर रेंज विजय कुमार ने इस हिज्बुल मुजाहिद्दीन कमांडर रियाज नायकू के बाद अब्दुल रहमान का मारा जाना सुरक्षाबलों के लिए दूसरी सबसे बड़ी सफलता है। उन्होंने बताया कि 28 मई को पुलवामा में मिले कार बम को उसी ने तैयार किया था। अब्दुल रहमान अफगानिस्तान युद्ध में भी शामिल हो चुका था। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में फौजी बाबा को जैश-ए-मोहम्मद के चीफ मसूद अजहर का रिश्तेदार भी बताया गया है। हालांकि, आईजीपी ने कहा कि इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद बुधवार सुबह पुलवामा के कंगन इलाके की घेराबंदी की और वहां तलाश अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि तलाश अभियान उस समय मुठभेड़ में बदल गया जब आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों की जवाबी कार्रवाई की और मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए।