onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

जेपी नड्डा पहुंचे उत्तराखंड ; सत्तारूढ़ भाजपा आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति पर मुहर लगाने जा रही है

उत्तराखंड में सत्तारूढ़ भाजपा आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति पर मुहर लगाने जा रही है। इसके लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा उत्तराखंड पहुंच गए हैं। वे हरिद्वार पहुंचकर पार्टी की चुनावी तैयारी का जायजा लेंगे। दो दिन में छह बैठकों व दो कार्यक्रमों के दौरान वह न केवल प्रदेश भाजपा संगठन व सरकार की तैयारियों की थाह लेंगे, बल्कि विभिन्न स्रोत से हासिल फीडबैक के आधार पर जरूरी दिशा-निर्देश भी देंगे। माना जा रहा है कि मंत्रियों और विधायकों की परफार्मेंस रिपोर्ट पर भी इन बैठकों में गहन मंथन किया जाएगा।उत्तराखंड में अब विधानसभा चुनाव को केवल छह-सात महीने का ही वक्त शेष है। उत्तराखंड की चौथी विधानसभा का गठन 21 मार्च 2017 को हुआ था। यानी अगले वर्ष 21 मार्च से पहले पांचवीं विधानसभा अस्तित्व में आ जाएगी। इस लिहाज से देखें तो जनवरी-फरवरी में विधानसभा चुनाव संभावित हैं। चुनाव के लिए काफी कम वक्त बचा है तो भाजपा ने अब अपनी पूरी ताकत झोक दी है। पिछले कुछ महीनों के दौरान सरकार में दो बार नेतृत्व परिवर्तन और संगठन में बदलाव पार्टी की चुनावी रणनीति का ही हिस्सा था।गत जून में भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष प्रदेश भाजपा की चुनावी तैयारी का जायजा ले चुके हैं।

अब राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा एक तरह से चुनावी रणनीति पर मुहर लगाने के लिए उत्तराखंड आ रहे हैं। दरअसल, भाजपा के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती अपने पिछले प्रदर्शन को दोहराने की है। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को 70 में से 57 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। अब यही प्रदर्शन उत्तराखंड भाजपा के लिए कसौटी बन गया है। यही वजह है कि पार्टी अपनी तैयारियों में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती।सूत्रों के मुताबिक हरिद्वार में दो दिन होने वाली बैठकों में मंत्रियों व विधायकों के साढ़े चार साल के कामकाज का रिपोर्टकार्ड भी उनके समक्ष रखा जाएगा। भाजपा चुनावी राज्यों में लगातार सर्वे करा रही है। इनके जरिये एकत्र जानकारी के आधार पर मंत्रियों व विधायकों के प्रदर्शन का आकलन किया जा रहा है। इसमें उनकी उपलब्धियों के साथ ही खामियों का भी जिक्र होगा। चुनाव से पहले खामियों को दूर करने के लिए जरूरी दिशा निर्देश दिए जाएंगे। कुछ महीनों बाद पार्टी को मिले फीडबैक के आधार पर मौजूदा विधायकों का भविष्य तय होगा।

विधानसभा चुनाव में केंद्र व राज्य सरकार की किन उपलब्धियों के बूते मैदान में उतरा जाए, इस पर भी बैठकों में मंथन किया जाएगा। साथ ही सांसदों, विधायकों, संगठन के पदाधिकारियों और अन्य जनप्रतिनिधियों से चुनाव के लिए प्रभावी रहने वाले मुद्दों पर भी राय ली जाएगी, ताकि पार्टी इन्हीं के मुताबिक अपनी रणनीति को अंतिम रूप दे सके। सूत्रों का कहना है कि भाजपा चुनाव से पहले के छह-सात महीनों के दौरान मुद्दों को लेकर खास रणनीति तैयार कर रही है, ताकि विपक्ष के हमलों की धार को कुंद किया जा सके।भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा शुक्रवार सुबह साढ़े 10 बजे जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचेंगे, जहां उनका स्वागत मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी व प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक करेंगे। कई मंत्री भी एयरपोर्ट पर मौजूद रहेंगे। इसके बाद नड्डा हरिद्वार के लिए सड़क मार्ग से रवाना होंगे। कई स्थानों पर पार्टी कार्यकर्त्ता उनका स्वागत करेंगे। हरिद्वार स्थित एक होटल में दोपहर दो बजे नड्डा पहली बैठक प्रदेश पदाधिकारियों, जिलाध्यक्ष व महामंत्रियों की लेंगे।

अगली बैठक शाम पौने चार बजे से सांसदों व विधायकों की होगी। शाम साढ़े पांच बजे भाजपा अध्यक्ष मंत्रियों व समितियों की बैठक लेंगे, जबकि सवा सात बजे से टोली बैठक होगी।शनिवार को भाजपा अध्यक्ष नड्डा सुबह 10 बजे रायवाला में पूर्व सैनिकों से संवाद एवं सैनिक सम्मान कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके बाद नड्डा पौने 12 बजे हरिद्वार स्थित होटल में जनप्रतिनिधियों की बैठक लेंगे। इसमें जिला पंचायत अध्यक्ष, महापौर, ब्लाक प्रमुख, नगर पालिका व नगर पंचायतों के अध्यक्ष मौजूद रहेंगे। दोपहर दो बजे कोर ग्रुप की बैठक होगी। इसके बाद भाजपा अध्यक्ष साधु-संतों के अभिनंदन एवं आशीर्वाद कार्यक्रम में शामिल होंगे। शाम को वह दिल्ली रवाना हो जाएंगे।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.