Home अंतर-राष्ट्रीय

ईरान ने किया अमेरिका पर मिसाइल हमला और दावा किया हमलों में मारे 80 अमेरिकी सैनिक

Share and Enjoy !

अमेरिकी एयर स्ट्राइक में ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या किए जाने के बाद बुधवार को जवाबी कार्रवाई करते हुए ईरान ने इराक में मौजूद अमेरिका के तीन सैन्य ठिकाने, इरबिर अल-असद और ताजी एयरबेस पर कई रॉकेट दागे। इस हमले ने एक बार फिर ईरान और अमेरिका के बीच तनाव को बढ़ा दिया है। इसी बीच ईरान में आज यूक्रेन का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया है। इस विमान में 180 यात्री सवार थे जिनकी मौत हो गई है। वहीं ईरान में आज भूकंप के दो झटके भी महसूस किए गए हैं। भारत ने भी ईरान और इराक के ऊपर से विमानों को उड़ान न भरने को कहा है।

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की अमीरात एयरलाइन और फ्लाईदुबई ने कहा कि उन्होंने परिचालन कारणों को लेकर बगदाद के लिए उड़ानें रद्द कर दी हैं। अमेरिकी सैनिकों के ठिकानों पर ईरान के बैलिस्टिक मिसाइल दागे जाने के बाद यह कदम उठाया गया है। अमीरात एयरलाइन ने एक बयान में कहा कि आठ जनवरी को दुबई से बगदाद के लिए अमीरात उड़ानें ई के 943 और बगदाद से दुबई के लिए ई के 944 को परिचालन कारणों को लेकर रद्द कर दिया गया है। 

अमीरात एयरलाइन ने कहा, हम घटनाक्रमों की सावधानीपूर्वक निगरानी कर रहे हैं और अपने उड़ान परिचालन के बारे में संबद्ध सरकारी प्राधिकारों से करीबी संपर्क में हैं। हम जरूरत पड़ने पर और भी परिचालन बदलाव करेंगे। 

ब्रिटेन ने ईरानी मिसाइल हमलों की निंदा की

ब्रिटेन ने गठबंधन सेना की मौजूदगी वाले इराकी सैन्य अड्डों पर ईरान के मिसाइल हमलों की बुधवार को निंदा की और हमलों में लोगों के हताहत होने की खबरों पर चिंता जताई। ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब ने कहा कि ब्रिटिश सेना समेत गठबंधन सेना की मौजूदगी वाले इराकी सैन्य अड्डों पर हमले की हम निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि लोगों के हताहत होने और बैलिस्टिक मिसाइलों के इस्तेमाल की खबरों को लेकर हम चिंतित हैं।

भारत के किसी भी शांति कदम का स्वागत करेगा ईरान: ईरान के राजदूत

भारत में ईरान के राजदूत अली चेगेनी ने कहा कि ईरान अमेरिका के साथ तनाव कम करने की दिशा में भारत के किसी भी शांति कदम का स्वागत करेगा। उन्होंने कहा कि हम युद्ध नहीं चाहते हैं, हम क्षेत्र में सभी के लिए शांति और समृद्धि की कामना करते हैं।

भारत भी सतर्क, कहा- ईरान और इराक वायुक्षेत्र में जाने से बचें

ईरान द्वारा अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर किए गए मिसाइल हमले के बाद बढ़ते तनाव को देखते हुए अमेरिका, मलेशिया, सिंगापुर और चीन के बाद भारत भी सतर्क हो गया है। सूत्रों के अनुसार, भारतीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने विमानन कंपनियों को एडवाइजरी जारी करते हुए ईरान-इराक और खाड़ी देशों के वायुक्षेत्र के इस्तेमाल से बचने की सलाह दी है।

Share and Enjoy !

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.