Home उत्तराखंड राजनीति

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने जन सुविधाओं से जुड़ी घोषणाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने जन सुविधाओं से जुड़ी घोषणाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जन समस्याओं के समाधान और जन सुविधाओं के विकास में विभागीय अधिकारियों की जवाबदेही तय होनी चाहिए। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार को सचिवालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से नैनीताल और ऊधमसिंह नगर जिलों के लिए की गईं मुख्यमंत्री घोषणाओं की समीक्षा की। बताया गया कि नैनीताल जिले के पांच विधानसभा क्षेत्रों में मुख्यमंत्री की 163 घोषणाओं में से 100 पूरी की जा चुकी हैं। ऊधमसिंहनगर जिले के पांच विधानसभा क्षेत्रों में 129 घोषणाओं में से 92 पूरी हुई हैं। मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि यूटिलिटी शिफ्टिंग के कारण सड़कों के निर्माण में देरी नहीं होनी चाहिए। इस संबंध में प्रभावी कार्यवाही की जाए। वन भूमि हस्तांतरण के कारण लंबित योजनाओं को पूरा करने को तेजी से कार्यवाही के निर्देश दिए गए।

मुख्यमंत्री ने रामनगर में बहुमंजिला पार्किंग बनाने, पेयजल योजनाओं, नलकूपों, ओवरहेड टैंकों, मिनी स्टेडियम, बस स्टेशन के निर्माण, नहरों को कवर करने, विभिन्न आंतरिक सड़कों के निर्माण में तेजी लाने के निर्देश दिए। भीमताल में पार्किंग निर्माण, विभिन्न चिकित्सालयों में एक्सरे व अल्ट्रासाउंड मशीन की व्यवस्था करने और भीमताल, सातताल, नौकुचियाताल, कमलताल के सौंदर्यीकरण के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। कालाढूंगी में विभिन्न क्षेत्रों में पांच नलकूपों के निर्माण व पूर्व में निर्मित नलकूपों में वोल्टेज स्टेबलाइजर की व्यवस्था करने को मंजूरी दी। मुख्यमंत्री ने लालकुंआ में मिनी स्टेडियम के निर्माण, बिंदुखत्ता में 55 हैंडपंपों की स्थापना, पेयजल योजना के पुनर्गठन को भी स्वीकृति प्रदान की।नैनीताल में मल्टीस्टोरी पार्किंग के निर्माण, हेलीपैड निर्माण आडिटोरियम के निर्माण में तेजी लाने के निर्देश दिए गए। रुद्रपुर में ट्रेंचिंग ग्राउंड और रुद्रपुर सहित अन्य क्षेत्रों का मास्टर प्लान तैयार करने, अनाज मंडी व ट्रांसपोर्ट नगर के निर्माण में तेजी लाने के भी निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने किच्छा में नया बस अड्डा बनाने व पुराने बस अड्डे पर कामर्शियल कांपलेक्स निर्माण, किच्छा शुगर मिल में एथेनाल प्लाट स्थापित करने को हरी झंडी दिखाई। खुरपिया फार्म की भूमि पर सिडकुल बनाने के साथ ही किच्छा में नया तहसील भवन बनाने का प्रस्ताव शीघ्र तैयार करने के निर्देश दिए। खटीमा में खेल स्टेडियम, बस स्टेशन, बाढ़ सुरक्षा कार्यों, सीवर लाइन व ट्रेंचिंग ग्राउंड के निर्माण में तेजी लाने को कहा गया।

सितारगंज में तहसील निर्माण के लिए शीघ्र धनराशि स्वीकृत करने के निर्देश मुख्यमंत्री ने दिए। बैठक में बताया गया कि विधानसभा क्षेत्र रामनगर में कुल 61 घोषणाओं में 32 पूरी हो चुकी हैं। भीमताल में 16 घोषणाओं में नौ, कालाढूंगी में 34 में से 32, लालकुंआ में 23 में से आठ, नैनीताल में 29 में 19 घोषणाएं पूरी हो चुकी हैं। इसी तरह ऊधमसिंह नगर जिले के विधानसभा क्षेत्र रुद्रपुर में 17 में 10, किच्छा में 13 में सात, खटीमा में 63 में 50, नानकमत्ता में 24 में 16 और सितारगंज में 12 में नौ घोषणाएं पूर्ण हुई हैं। शेष में कार्यवाही गतिमान है।बैठक में विधायक दीवान सिंह, संजीव आर्य, राजेश शुक्ला, राजकुमार ठुकराल, मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार शत्रुघ्न सिंह, अपर मुख्य सचिव आनंद बर्द्धन, प्रमुख सचिव आरके सुधांशु, सचिव शैलेश बगोली, आर मीनाक्षी सुंदरम, एसएन पांडे, एसए मुरुगेशन, डा रणजीत सिन्हा, प्रमुख वन संरक्षक राजीव भरतरी मौजूद रहे। वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत, विधायक पुष्कर सिंह धामी, डा प्रेम सिंह, सौरभ बहुगुणा, कुमाऊं मंडलायुक्त अरविंद सिंह ह्यांकी व जिलाधिकारी शामिल हुए।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.