उत्तराखंड स्लाइड

हेमकुंड साहिब के कपाट 4 सितंबर को खुलेंगे, सिर्फ 200 श्रद्धालुओं को जाने की मिलेगी अनुमति

Share and Enjoy !

हेमकुंड साहिब की यात्रा व्यवस्थाओं को चाक चौबंद करने के लिये जिला मुख्यालय गोपेश्वर में प्रशासन की महत्वपूर्ण बैठक हुई। डीएम स्वाति भदौरिया ने यात्रा को लेकर सोमवार को क्लक्ट्रेट सभागार में यात्रा से जुडे़ सभी अधिकारियों की बैठक लेते हुए व्यवस्थाओं को तत्काल सुचारू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यात्रा व्यवस्थाओं से जुड़े कार्यों में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पवित्र तीर्थस्थल हेमकुंड साहिब के कपाट 4 सितंबर को सुबह 10 बजे श्रद्धालुओं के लिए खोले जाएंगे। यात्रा लगभग एक महीने और 5 दिनों तक चलेगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण इस बार हेमकुंड साहिब की यात्रा पर आने वाले प्रत्येक श्रद्धालु को 72 घंटे पहले कोविड का पीसीआर टेस्ट कराना अनिवार्य होगा। पीसीआर टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट वाले श्रद्धालुओं को ही यात्रा की इजाजत रहेगी और एक दिन में अधिकतम 200 श्रद्धालुओं को ही अनुमति दी जाएगी। इस बार यात्रा मार्ग पर घोड़े-खच्चर की व्यवस्था न होने के कारण उन्होंने गुरुद्वारा प्रबंधक को बाहर से आने वाले उम्र दराज श्रद्वालुओं को यात्रा पर न आने की सलाह अवश्य देने को कहा ताकि यात्रा के दौरान कोई समस्या न आए।

Share and Enjoy !

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.