onwin giriş
Home उत्तराखंड चारधाम यात्रा

केदारनाथ पैदल मार्ग पर घायल हुए एक युवक को शुक्रवार की सुबह हेली एंबुलेंस के जरिए एम्स ऋषिकेश लाया गया

केदारनाथ पैदल मार्ग पर बीते गुरुवार की शाम को घायल हुए एक युवक को शुक्रवार की सुबह हेली एंबुलेंस के जरिए एम्स ऋषिकेश लाया गया। जहां चिकित्सक युवक के उपचार में जुटे हैं। युवक खच्‍चर चलाता है।

केदारनाथ पैदल मार्ग पर लिंचोली के निकट बीते गुरुवार की शाम को विनोद कुमार (28 वर्ष) निवासी नंदा नगर चमोली खच्चर के लात मारने से घायल हो गया था। जिसे स्वामी विवेकानंद धर्मार्थ चिकित्सालय बेस कैंप केदारनाथ में उपचार के लिए ले जाया गया था। यहां से उसे चिकित्सकों ने हायर सेंटर रेफर करने की सिफारिश की थी।एम्स ऋषिकेश के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि चमोली जिला प्रशासन की ओर से बीती शाम ही इस संबंध में सूचना भेज दी गई थी। शुक्रवार की सुबह 8:10 पर हेलीकाप्टर एम्स ऋषिकेश के हेलीपैड पर पहुंचा।

यहां से एम्स की टीम ने घायल युवक को ट्रामा सेंटर इमरजेंसी में शिफ्ट कर दिया है। युवक के पेट के निचले हिस्से में अंदरूनी चोट है। पैदल मार्ग पर खच्चर के लात मारने से युवक घायल हुआ है।सतोपंथ (चमोली) ट्रेकिंग से लौट रहे बंगाल के एक प्रोफेसर की मौत हो गई। प्रथम दृष्टया मौत का कारण हृदय गति रुकना बताया गया है। बंगाल के मेदनीपुर जिले के ग्राम चक गोपाल निवासी डा. नीमयी पात्रा (45 वर्ष) अपने साथियों के साथ चमोली के सतोपंथ में ट्रेकिंग पर गए थे। बंगाल में एक कालेज में वह प्रोफेसर है।बीते रोज उनकी तबीयत अचानक बिगड़ी, जिसके बाद उन्हें बदरीनाथ लाया गया। जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उसके बाद उनके साथी गुरुवार सुबह उनका शव लेकर राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश पहुंचे। जहां शव का पोस्टमार्टम किया गया। मृतक के स्वजन को सूचित कर दिया गया है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.