Home देश बिज़नेस स्लाइड

जल्द शुरू होगा ग्रेट इंडियन डिविडेंड फेस्टिवल, जाने पूरी खबर ..

Facebooktwittermailby feather

कंपनियां जल्द डिविडेंड का ऐलान कर रही हैं. दरअसल, इस महीने की शुरुआत में पेश बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने डिविडेंड पर टैक्स के नियम में बदलाव का एलान किया.इसके मुताबिक, डिविडेंड पर अब कंपनी को नहीं बल्कि शेयरधारक को टैक्स देना होगा.नए नियम अगले वित्त वर्ष से लागू होंगे. इससे डिविडेंड पर अब टैक्स की दर 43 फीसदी तक पहुंच सकती है.

1 फरवरी के बाद कुल 204 कंपनियों ने डिविडेंड का ऐलान किया है. साल 2019 में इनकी संख्या 90 और साल 2018 में 98 थी. आने वाले दो से तीन दिन के भी ..21 फरवरी को बजाज ऑटो के बोर्ड ने बैठक की और 1,200 फीसदी या 120 रुपये प्रति शेयर के अंतरिम डिविडेंड का ऐलान किया. इस ऑटो कंपनी ने साल 2018 और 2019 में डिविडेंड का ऐलान मई में किया था.

14 फरवरी को श्री सीमेंट ने 1,100 फीसदी के डिविडेंड का ऐलान किया, जो साल 2019 में 250 फीसदी और साल 2018 में 200 फीसदी था. सिम्फनी ने भी 7 फरवर को 900 फीसदी के विशेष डिविडेंड का ऐलान किया. डिविज लैब्स ने 12 फरवरी को 800 फीसदी डिविडेंड को हरी झंडी दिखाई. 2002 में भी इसी तरह डिविडेंड देने की होड़ मची थी, जब तत्कालीन वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने डिविडेंड को निवेशकों हाथों में टैक्स योग्य बनाया था. 2007 में भी ताबड़तोड़ डिविडेंड की ऐलान हुआ था. तब वित्त मंबी पी चिदंबरम ने डीडीटी की दर को 12.5 फीसदी से बढ़ाकर 15 फीसदी कर दिया था.

चिदंमबरम के ऐलान के बाद 300 से अधिक कंपनियों ने काफी ज्यादा डिविडेंड की घोषणा की थी. साल 2020 के बजट में डिविडेंड वितरण कर को खत्म कर दिया गया है. इसका बोझ पूरी तरह शेयरधारकों पर डाल दिया गया है.

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.