Home उत्तराखंड एजुकेशन स्लाइड

सरकारी स्कूलों के भवन निर्माण में भूकंप रोधी बनाने के लिए प्रदेश सरकार युद्धस्तर पर काम कर रही है

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश के सरकारी स्कूलों के भवन निर्माण में नई तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। इन्हें भूकंप रोधी बनाने के लिए प्रदेश सरकार युद्धस्तर पर काम कर रही है। मुख्यमंत्री बुधवार को लक्ष्मण विद्यालय में आयोजित सेफ्टी फर्स्ट मेले के शुभारंभ अवसर पर बोल रहे थे।भंडारी बाग स्थित लक्ष्मण विद्यालय इंटर कॉलेज में आयोजित इस मेले में सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। हनीवैल कंपनी और सीड्स संस्था के सहयोग से बच्चों को आपदा के वक्त सुरक्षित रहने को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि स्कूली इमारतों और बच्चों की सुरक्षा बेहद संवेदनशील मुद्दा है। इसके लिए हनीवैल कंपनी और सीड्स संस्था का सहयोग सरकार भी ले रही है।हनीवैल कंपनी के प्रेजीडेंट अक्षय बिल्लारी ने कहा कि उत्तराखंड में इस परियोजना को विस्तार दिया जाएगा। फिलहाल, देहरादून और हरिद्वार के 100 स्कूलों में यह प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। यहां पर कंपनी व्यापक स्तर पर आपदा में बचाव संबंधी उपकरणों का उत्पादन भी कर रही है।

लोगों को रोजगार प्रदान करने के साथ ही कंपनी की समाज विशेषकर बच्चों के प्रति जिम्मेदारी है। को फाउंडर मन्नू गुप्ता ने कहा कि भविष्य में नेशनल सेफ स्कूल पॉलिसी को मूर्त रूप दिया जाएगा। इस मौके पर मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक महंत दिलीप रावत, उत्तराखंड प्रोजेक्ट मैनेजर अनीता चौहान आदि उपस्थित रहे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.