onwin giriş
Home उत्तराखंड राजनीति

राशन कार्ड से सदस्यों का नाम निरस्त किए जाने से सरकारी सस्ते गल्ले के विक्रेता आक्रोशित

राशन कार्ड से सदस्यों का नाम (यूनिट) निरस्त किए जाने से सरकारी सस्ते गल्ले के विक्रेता (राशन डीलर) आक्रोशित हैं। उनका कहना है कि विभाग दस्तावेज जमा होने के बाद भी कार्ड से नाम काट रहा है। इससे उन्हें जनता के कोप का सामना करना पड़ रहा है। इसको लेकर गुरुवार को उत्तराखंड सरकारी सस्ता गल्ला विक्रेता परिषद ने जिला पूर्ति अधिकारी के दफ्तर का घेराव कर विरोध जताया। इस दौरान गल्ला विक्रेताओं ने दो टूक कहा कि राशन कार्ड के हिसाब से राशन उपलब्ध कराया जाए, वरना विभाग स्वयं जनता को राशन का वितरण करे।

परिषद के अध्यक्ष जितेंद्र गुप्ता ने बताया कि आपूर्ति विभाग की तरफ से राशन कार्डों का सत्यापन किया जा रहा है। इसके लिए पूर्व में कार्ड धारकों और उनके परिवार के दस्तावेज मांगे गए थे। अधिकांश राशन डीलर की तरफ से ये दस्तावेज विभाग को उपलब्ध करा दिए गए हैं। बावजूद इसके तमाम राशन कार्ड में यूनिट कम कर दी गई। विभाग की इस लापरवाही का खामियाजा राशन डीलर को भुगतना पड़ रहा है। संबंधित राशन कार्ड धारक उनसे पूर्व की भांति राशन की मांग करते हैं और ऐसा नहीं होने पर हंगामा करते हैं।उन्होंने आरोप लगाया कि विभाग में दस्तावेजों का उचित ढंग से रखरखाव नहीं होने के कारण ऐसा हो रहा है। कहा कि राशन डीलर उपभोक्ताओं के राशन कार्ड के फार्म और दस्तावेज कार्यालय में जमा करते हैं, मगर रख-रखाव के अभाव में वह गुम हो जाते हैं। इस बाबत जब पूछा जाता है तो कर्मचारी फिर से दस्तावेज मांगते हैं।

दूसरी तरफ, राशन कार्ड धारक से बार-बार दस्तावेज मांगने पर वह भी नाराजगी व्यक्त करते हैं। कई बार विवाद भी हो जाता है। उन्होंने विभाग से राशन कार्ड में दर्ज सभी यूनिट पर राशन उपलब्ध करवाने की मांग की। उधर, जिला पूर्ति अधिकारी जसवंत सिंह कंडारी ने बताया कि शासन के आदेश पर जिन राशन कार्ड धारकों ने आधार व अन्य दस्तावेज उपलब्ध नहीं कराए, उनके यूनिट या कार्ड ही निरस्त हो रहे हैं।राशन कार्डों की खामियां, दुकानदारों का जनता के प्रति व्यवहार, नए राशन कार्ड बनाने में आ रही परेशानी समेत अन्य मसलों को लेकर देहरादून नगर निगम के पार्षदों ने गुरुवार को डीएसओ जसवंत सिंह कंडारी से मुलाकात की। पार्षदों ने कहा कि जिन राशन कार्ड में त्रुटियां हैं, 15 अगस्त तक उनकी सूचना संबंधित परिवार को दे दी जाए। इस अवसर पर पार्षद भूपेंद्र कठैत, संजय नौटियाल, नंदनी शर्मा, चुन्नी लाल, कमल थापा, योगेश घाघट, सत्येंद्र नाथ आदि उपस्थित रहे।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.