Home उत्तराखंड राजनीति

कांग्रेस में जी-23 हलचल, लेकिन उत्तराखंड में पार्टी संगठन और गुटीय नेताओं के लिए बड़ा मुद्दा नहीं

कांग्रेस में जी-23 के रुख को लेकर राष्ट्रीय राजनीति में भले ही हलचल तेज हो, लेकिन उत्तराखंड में पार्टी संगठन और गुटीय नेताओं के लिए यह बड़ा मुद्दा नहीं है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि इस वक्त कांग्रेस में हर कोई कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में संगठन को मजबूत बनाने में जुटा है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जी-23 में भी सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व को लेकर कोई विवाद नहीं है। उनके नेतृत्व में पार्टी एकजुट है। उत्तराखंड में पार्टी का एक-एक कार्यकत्र्ता राष्ट्रीय नेतृत्व के साथ मजबूती से खड़ा है। वरिष्ठ नेता पार्टी को मजबूत बनाना चाहते हैं। अभी तक उनकी यही मंशा सामने आई है। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र की सत्ता में बैठी सरकार और सत्तारूढ़ दल भाजपा जानबूझकर कांग्रेस को निशाना बनाने के लिए जी-23 को लेकर भ्रम फैलाना चाहते हैं।

नेता प्रतिपक्ष डा इंदिरा हृदयेश ने कहा कि कांग्रेस के भीतर लोक, जन और दल के भीतर मुद्दों को लेकर लगातार मंथन चलता रहता है। कांग्रेस के अंदरूनी लोकतंत्र की ये ताकत है। पूरी पार्टी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में आगे बढ़ रही है। वरिष्ठ केंद्रीय नेताओं के मध्य भी इसे लेकर संशय नहीं रहा है। प्रदेश में कांग्रेस के दूसरे गुट की कमान पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय महासचिव हरीश रावत के हाथों में है। हरीश रावत को हाईकमान के करीबियों में शुमार किया जाता है। इन दिनों वह दिल्ली दौरे पर हैं।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.