वेंटिलेटर पर हैं पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, हालत गंभीर

Facebooktwittermailby feather

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सर्जरी के बाद भी हालत नाजुक बनी हुई है और वह जीवनरक्षक प्रणाली (वेंटिलेटर) पर हैं। इससे एक दिन पहले उनके मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी। मुखर्जी को सोमवार की दोपहर के वक्त सैन्य अस्पताल में भर्ती कराया गया था और सर्जरी से पहले उनमें कोविड-19 की भी पुष्टि हुई थी। अस्पताल की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन में कहा गया, “पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को 10 अगस्त, 2020 को गंभीर स्थिति में 12 बजकर सात मिनट पर दिल्ली छावनी स्थित सेना के आर एंड आर अस्पताल में भर्ती कराया गया।”

इसमें कहा गया, “अस्पताल में की गई चिकित्सीय जांच में सामने आया कि उनके मस्तिष्क में एक बड़ा सा थक्का है, जिसके लिए उनकी आपातकालीन जीवनरक्षक सर्जरी की गई। सर्जरी के बाद भी उनकी हालत नाजुक बनी हुई है और उन्हें जीवनरक्षक प्रणाली पर रखा गया है।” विभिन्न विशेषज्ञता वाले डॉक्टरों की टीम पूर्व राष्ट्रपति के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी कर रही है। अस्वस्थ चल रहे मुखर्जी डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती कराए गए थे और सर्जरी के पहले वे कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए।

बता दें कि, सोमवार को प्रणब मुखर्जी की नियमत चेक-अप के दौरान आर्मी के रिसर्च एंड रेफरल (R&R) हॉस्पीटल में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। 84 वर्षीय प्रणब मुखर्जी ने आज सुबह एक ट्वीट में कहा था, ‘अन्य कारणों से अस्पताल गया था जहां पर आज कोविड-19 जांच में संक्रमित होने की पुष्टि हुई।’