Home देश

किसान संगठनों ने हिंसा के लिए दीप सिद्धू और अन्य असामाजिक तत्वों को बताया जिम्मेदार

किसान संगठनों ने आज दिल्ली में हुई हिंसा के बाद बैठक की और एक बयान जारी कर कल गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के लिए दीप सिद्धू और अन्य असामाजिक तत्वों को जिम्मेदार ठहराया है। इस बयान में कहा गया है कि किसान संगठनों के आंदोलन से सरकार हिल गई है और इसे बदनाम करने के लिए गंदी साजिश रची गई। इस बयान में कहा गया कि एक साजिश के तहत तय समय से पहले ही ट्रैक्टर परेड शुरू की गई जबकि परेड शुरू करने का वक्त पहले से तय था। किसान संगठनों ने किसानों से अपील की कि वे धरना स्थलों पर रहें और शांतिपूर्ण संघर्ष जारी रखें।

आपको बता दें कि संयुक्त किसान मोर्चा 41 किसान संगठनों की शीर्ष इकाई है और यह कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहा है। दिल्ली में मंगलवार को ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने परेड निरस्त कर इसमें हिस्सा लेने वाले सभी लोगों से अपील की कि वे तत्काल संबंधित प्रदर्शन स्थलों पर लौट जाएं। दिल्ली के कई हिस्सों में ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के संबंध में दिल्ली पुलिस 22 प्राथमिकियां दर्ज कर चुकी है। इस दौरान 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.