निष्कासित खानपुर विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन की भाजपा में वापसी

Facebooktwittermailby feather

राजनीती कब क्या करवट लेले कुछ पता नहीं,उत्तराखंड में राजनीती में एक और नमूना पेश किया ,जिसने राज्य का अपमान किया उसे आज सत्ताधारी पार्टी वापस ले रही है, अनुशासनहीनता के कारण पार्टी से निष्कासित खानपुर विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन की भाजपा में वापसी हो गई है। प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने इसकी पुष्टि की है। वहीं देशराज कर्णवाल को भी माफ कर दिया है।

दोनों पर लगे आरोपों पर रविवार को चैंपियन और कर्णवाल का पक्ष सुनने के बाद प्रदेश अध्यक्ष ने सोमवार को अपना फैसला सुनाया। चैंपियन की 14 महीने बाद हुई पार्टी में वापसी हुई है। प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि एक साल से चैंपियन ने कोई विवादित बयान नहीं दिया। वे मर्यादा में रहे। उन्होंने लिखित में माफी मांगी है। चैंपियन ने कहा कि मैं माफी मांगता हूं। देवभूमि मुझे माफ़ करेगी।

भाजपा कोर ग्रुप की बैठक में चार विवादित विधायकों का मसला उठा। जिस पर कुछ सदस्यों ने चिंता जाहिर की। उनका मत था विधायकों की गुस्ताखियों और हरकतों की वजह से पार्टी और सरकार की छवि प्रभावित हो रही है। विधायकों को कड़ा संदेश देने पर जोर दिया गया। बैठक के बाद प्रदेश अध्यक्ष ने चैंपियन और कर्णवाल को आज ही तलब कर उनका पक्ष सुन लिया था। वहीं  महिला प्रकरण में फंसे द्वारहाट विधायक महेश नेगी सोमवार को प्रदेश अध्यक्ष के समक्ष हाजिर होंगे और अपना पक्ष रखेंगे। सरकार के जीरो टॉलरेंस पर सवाल उठाने वाले लोहाघाट विधायक पूरन फर्त्याल को भी सोमवार को बुलाया गया है। लेकिन पार्टी का उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है।