Home उत्तराखंड

विभिन्न मांगों को लेकर ऊर्जा निगमों के कार्मिकों ने छेड़ा आंदोलन

Share and Enjoy !

विभिन्न मांगों को लेकर ऊर्जा निगमों के कार्मिकों ने आंदोलन छेड़ दिया है। उत्तराखंड विद्युत अधिकारी-कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा के बैनर तले जन जागरण और गेट मीटिंग की जा रही है, जिसमें कार्मिक जोर-शोर से मुद्दे उठा रहे हैं। सोमवार से विभिन्न कार्यालयों में जनजागरण अभियान चलाने के बाद बुधवार को कार्मिकों ने ईसी रोड स्थित ऊर्जा निगम कार्यालय परिसर में गेट मीटिंग की।

मोर्चा के संयोजक इंसारुल हक ने कहा कि तीनों ऊर्जा निगमों में कार्यरत कार्मिकों, संविदा कार्मिकों और पेंशनरों की समस्याओं का समाधान नहीं हो पा रहा है। कहा कि दिसंबर 2017 को ऊर्जा निगमों के समस्त कार्मिक संगठनों, एसोसिएशन के साथ हुई बैठक में कई मुद्दों पर सहमति बनी थी, लेकिन तीन साल बाद भी आदेश निर्गत नहीं किया गया। वर्तमान समय में कार्यरत या सेवानिवृत्त कार्मिकों की सेवा शर्तों में प्रतिकूल परिवर्तन न किए जाने के लिए तीनों निगमों में 31 दिसंबर 2016 तक लागू एसीपी की व्यवस्था, सीधी भर्ती में नियुक्ति तिथि से प्रथम, द्वितीय, तृतीय क्रमश: नौ वर्ष, 14 वर्ष व 19 वर्ष की सेवा पूर्ण करने पर पूर्व में प्रचलित अनुमन्य पे-मैट्रिक्स में यथावत करने की मांग को प्रमुखता से उठाया जा रहा है।

इसके साथ ही मांग है कि वर्तमान तक नियुक्त सभी कार्मिकों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिया जाए। नवनियुक्त सहायक अभियंताओं, अवर अभियंताओं व तकनीकी ग्रेड-द्वितीय को पूर्व की भांति तीन, दो व एक प्रारंभिक वेतनवृद्धि का लाभ दिया जाए। गेट मीटिंग में प्रदीप कंसल, विनोद कवि, अमित रंजन, वाईएस रावत, एनएस बिष्ट, संदीप शर्मा, बबलू सिंह, मुकेश कुमार, केहर सिंह, राकेश शर्मा, रेखा डंगवाल, विनोद ध्यानी आदि मौजूद थे।

Share and Enjoy !

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.