onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

उत्तराखंड आगामी विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कंधों पर ही होगा पूरा दारोमदार

उत्तराखंड में अगले साल की शुरुआत में होने वाले सियासी मैच में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के कंधों पर ही पूरा दारोमदार होगा। भाजपा उन्हीं की कप्तानी में चुनाव लड़ेगी और  पार्टी का चेहरा भी होंगे। राज्य के दौरे पर आए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी इस पर एक तरह से मुहर लगा दी। पीठसैंण में पेशावर कांड के नायक वीर चंद्रसिंह गढ़वाली की प्रतिमा व स्मारक के लोकार्पण समारोह में रक्षा मंत्री ने कहा, ’20-20 मैच में धामी को आखिरी ओवर में उतारा गया। वह धाकड़ बल्लेबाज हैं। उत्तराखंड की जनता की निगाहें पर उन पर टिकी हैं।’ धामी को धाकड़ बल्लेबाज कह उन्होंने एक तरह से साफ कर दिया कि पार्टी ने उन्हें सुविचारित रणनीति के तहत आखिरी छह महीनों में सरकार की कमान सौंपी।भाजपा के लिए आगामी विधानसभा चुनाव बड़ी चुनौती से कम नहीं हैं। राज्य में वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव से निरंतर विजय रथ पर सवार भाजपा के सामने अब ऐसा ही प्रदर्शन विधानसभा चुनाव में दोहराने की चुनौती है। इस बीच मार्च से लेकर जुलाई तक सरकार में दो बार हुए नेतृत्व परिवर्तन के बाद स्थिति भी बदली है। नेतृत्व परिवर्तन को विपक्ष ने मुद्दा बनाया तो जनता के बीच से सवाल उठने भी तय हैं। ऐसे में नए मुख्यमंत्री के सामने इन सवालों का जवाब देने के साथ ही सियासी पिच पर खुद को साबित करने की चुनौती है। इसे देखते हुए पार्टी ने ऐसी फील्डिंग लगाई है कि कहीं कोई कमी न रहे।

चुनावी मैच में कप्तान कौन होगा, इसके लिए पार्टी नेतृत्व पहले ही कह चुका है कि धामी ही कमान संभालेंगे। हाल में उत्तराखंड के दौरे पर आए केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री एवं पार्टी के उत्तराखंड चुनाव प्रभारी प्रल्हाद जोशी ने साफ किया था कि धामी की अगुआई में चुनाव लड़ा जाएगा और स्वाभाविक तौर पर वही चेहरा होंगे। इससे पहले पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री एवं प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम भी यह कह चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुख्यमंत्री की मुलाकातों से भी इसे बल मिला है।अब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री धामी को 20-20 मैच का धाकड़ बल्लेबाज करार दिया। एक तरह से उन्होंने यह संदेश देने का भी प्रयास किया कि चुनावी रणनीति के तहत ही धामी को आखिरी छह महीनों में मैदान में उतारा गया है, ताकि स्लाग ओवर में वह धुआंधार बल्लेबाजी कर पार्टी की चुनावी नैया को पार लगाएं। वजह यह कि राज्य में अब चुनाव के लिए महज चार-पांच माह का ही वक्त रह गया है। इस वक्फे का उन्हें इस तरह से सदुपयोग करना है कि धरातल पर अधिक से अधिक काम कर जनता का दिल जीत सकें।इस मुहिम में रक्षा मंत्री एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता राजनाथ से मिले संबल से मुख्यमंत्री धामी के मनोबल में और इजाफा हुआ है। कार्यक्रम के बाद रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया कि उत्तराखंड की जनता की उम्मीदों को पूरा करने में धामी खरा उतरेंगे। वहीं, मुख्यमंत्री धामी ने भी ट््वीट कर उत्साहवद्र्धन के लिए रक्षा मंत्री के प्रति आभार जताया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय नेतृत्व के मार्गदर्शन में प्रदेश के विकास और प्रदेशवासियों के हित में निर्णायक कदम उठाए जा रहे हैं। केंद्रीय नेतृत्व के भरोसे पर प्रदेश सरकार अवश्य खरा उतरेगी।

 

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.