Home उत्तराखंड राजनीति

जिला डिप्लोमा फार्मेसिस्ट एसोसिएशन शाखा के अधिवेशन में नई कार्यकारिणी का गठन

Share and Enjoy !

डिप्लोमा फार्मेसिस्ट एसोसिएशन जिला शाखा के अधिवेशन में नई कार्यकारिणी का गठन हुआ। इस दौरान जिलाध्यक्ष और जिला मंत्री के पद पर मतदान हुआ। जबकि कार्यकारिणी के अन्य पदों पर सभी प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हुए।रविवार को प्रेस क्लब में डिप्मोला फार्मेसिस्ट एसोसिएशन जिला शाखा के द्विवार्षिक अधिवेशन का स्वास्थ्य निदेशक डॉ. एसके गुप्ता, दून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना व दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केसी पंत ने दीप जलाकर शुभारंभ किया।

इस अवसर पर संगठन के प्रांतीय महामंत्री आरएस एरी ने संगठन का मांग पत्र सौंपते हुए कहा कि फार्मेसी संवर्ग के ढांचे का पुनर्गठन, सेवा नियमावली लंबे समय से लंबित चली आ रही है।इसके अलावा 2006 और 2009 में नियुक्त डिप्लोमा फार्मेसिस्ट के वेतन विसंगतियां अभी तक दूर नहीं हुई है। इस पर निदेशक डॉ. गुप्ता ने कहा कि ढांचा पुर्नगठन और सेवा नियमावली का प्रस्ताव शासन को भेज दिया गया है। यह दोनों ही प्रकरण शासन स्तर पर लंबित है। उन्होंने कहा कि वेतन विसंगति प्रकरण का जल्द निस्तारण किया जाएगा।

अधिवेशन के द्वितीय सत्र में मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र पंवार, मंडल सचिव राकेश सिंह रावत, प्रांतीय अध्यक्ष प्रताप सिंह पंवार व प्रांतीय महामंत्री आरएस एरी की देखरेख में जिला शाखा के दो पदों जिलाध्यक्ष और जिला सचिव पर चुनाव कराया गया। जिसके लिए 148 सदस्यों ने मतदान किया। जिसमें जिलाध्यक्ष पद पर सुधा कुकरेती को 76 और सीएल भट्ट को 72 व जिला सचिव पद पर सीएम राणा को 100 और अशोक पांडे को 48 मत पड़े। सुधा लगातार तीसरी बार अध्यक्ष बनी हैं। विक्रम पंवार वरिष्ठ उपाध्यक्ष, बीपी बधानी उपाध्यक्ष, मुकेश नौटियाल कोषाध्यक्ष, सुमीला भाटिया संयुक्त मंत्री, सुशील कांती संप्रेक्षक व भगवान प्रसाद नौटियाल संगठन मंत्री पद पर निर्विरोध निर्वाचित हुए।

Share and Enjoy !

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.