onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

उत्तराखंड के विकास को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का भावी एजेंडा जल्द सामने आएगा।

उत्तराखंड के विकास को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का भावी एजेंडा जल्द सामने आएगा। धामी इस एजेंडे और नई उम्मीदों के साथ शुक्रवार रात्रि अपने पहले दौरे पर दिल्ली पहुंच गए। कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबले के साथ ही विकास और जन कल्याण के कार्यों को अल्प समय में पूरा करने की चुनौती को ध्यान में रखकर मुख्यमंत्री के साथ मुख्य सचिव डा एसएस संधू समेत आला अधिकारियों की टीम भी दिल्ली दौरे पर है। शनिवार को धामी की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात का कार्यक्रम तय है। कोरोना संकट के बीच कांवड़ यात्रा को लेकर उत्तराखंड का रुख तय करने के लिए धामी केंद्रीय नेतृत्व से मार्गदर्शन ले सकते हैं।

प्रदेश के सबसे युवा मुख्यमंत्री के रूप में बीती चार जुलाई को शपथ लेने वाले पुष्कर सिंह धामी के सामने शुरुआती दौर से ही चुनौतियां मुंहबाए खड़ी हैं। नेतृत्व की बागडोर युवा को सौंपने से नाराज हुए वरिष्ठों को मुख्यमंत्री धामी मना चुके हैं। कोरोना की दूसरी लहर का घातक रूप देख चुके प्रदेश के सामने अब तीसरी लहर का खतरा है। इससे निपटने को चाक-चौबंद व्यवस्था के लिए केंद्र सरकार से मदद की दरकार है, साथ में लंबे समय से धीमे पड़े विकास कार्यों को गति देना जरूरी हो गया है। कोरोना संकट काल में सीमित आर्थिक संसाधन वाले उत्तराखंड को मुश्किलों से जूझना पड़ रहा है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.