Home उत्तराखंड राजनीति

दलितों को भिखारी कहने वालोंं को जनता भी जवाब देगी; भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक

Share and Enjoy !

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक ने कहा कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की शह पर जिस तरह से दलितों को अपमानित किया जा रहा है वह निन्दनीय और टीएमसी की दलित विरोधी सोच को उजागर करता है।उन्होंने कहा कि इससे साफ है कि बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर के प्रति आदर का ढोंग करने वाले इन दलों में दलित समुदाय के प्रति कूट कूट कर नफ़रत भरी है। दलितों को भिखारी कहने वालोंं को जनता भी जवाब देगी।

भाजपा अध्यक्ष श्री कौशिक ने कहा कि 14 अप्रैल को बाबा साहेब की जयंती से पहले ममता दीदी की सांसद की ओर से दलित समुदाय को इस तरह विषैले व्यंग्य बाणो से तिरस्कार को देश भर का दलित समुदाय माफ़ नहीं करेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस का भी यही इतिहास रहा है और कांग्रेस ने हमेशा दलित समुदाय को वोट बैंक के रूप में प्रयोग किया।लेकिन उन्हें आगे बढ़ने का अवसर न देकर उनका सदैव शोषण किया है ।

श्री कौशिक ने कहा कि ममता की टीएमसी भी कांग्रेस की कोख से जन्मी है और उसके भी कांग्रेसी संस्कार है। श्री कौशिक ने कहा कि ममता के मंत्री अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं। हताशा में हिंदुओं की आराध्य देवी सीता को भी अपमानित करने से बाज़ नहीं आ रहे हैं।

श्री कौशिक ने कहा कि बंगाल में ममता बनर्जी की अगुवाई वाली टीएमसी और देश भर में कांग्रेस तुष्टिकरण की नीति के कारण हिन्दू देवी देवताओ का अपमान करने का पाप करते आए है और उनको जनता सबक सिखाने जा रही है। उन्होंने कहा कि पहले कांग्रेस ने राम मंदिर निर्माण के रास्ते में तरह तरह से रोड़े अटकाये और फिर अदालत में राम को काल्पनिक पात्र कहकर हिंदुओं की आस्था पर चोट की और इसका दंड कांग्रेस को जनता ने दिया है । नतीजा यह हुआ कि आज कांग्रेस अपने अस्तित्व की तलाश में है और उसकी जड़ें हिल गई है। वहीं टीएमसी सांसद ने फिर तुष्टीकरण के लिए माता सीता का अपमान किया है। उन्होंने कहा कि सीता हिन्दू शास्त्रों के अनुसार देवी सीता आराध्य देवी है। अपने लाभ हानि को देखते हुए माँ सीता की पवित्रता पर अश्लील टिप्पणी करना उनका मानसिक दिवालियेपन का सुबूत हैं। यह टिप्पणी भी ममता के इशारे पर सोच सनझ कर की गई है। एक बर्ग विशेष को खुश करने के लिए धार्मिक भावनाये भड़काने की कोशिश की जा रही है उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने ने कहा कि देश की जनता ने तुष्टिकरण के कारण जो हश्र कांग्रेस का किया अब उसी अंदाज में जनता टीएमसी को भी जवाब देगी। उन्होंने कहा कि राजनीती में मर्यादा और सुचिता का भी स्थान होता है और दोनों ही दल इसे भूल गए हैं। जनता की अदालत में इस पर न्याय होगा और लोग उन्हें सबक सिखाएंगे।

Share and Enjoy !

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.